उमेश यादव ने बताया Team India में जगह बनाने का फार्मूला

My Blog - By Pawan Ojha Tech

My Blog - By Pawan Ojha Tech

Author 2019-10-14 00:14:17

हाइलाइट्स

  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ पुणे में सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में उमेश ने झटके 6 विकेट
  • उमेश बोले, मौजूदा टीम में सात से आठ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने 40 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं
  • विदर्भ के लिए घरेलू क्रिकेट में खेलते हैं उमेश, बुमराह की वापसी के बाद वह चौथी पसंद के तेज गेंदबाज हो जाएंगे
  • उमेश यादव बोले, सभी गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, हर किसी को कहीं मुकाम पर मौका मिलेगा
imgThird party image reference

पवन ओझा (खेल जगत): भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव का मानना है कि भारत में प्रतिभा की कमी अब बिलकुल नहीं है लेकिन युवाओं को राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए उन्हें वर्तमान टीम के सदस्यों से कई बेहतर प्रदर्शन करना होगा। विदर्भ के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि वर्तमान टीम में शामिल खिलाड़ियों ने पिछले वर्षों में बहुत अनुभव हासिल किया है और भावी खिलाड़ियों के लिए मानदंड स्थापित किए हैं।

imgThird party image reference

उमेश यादव ने पुणे टेस्ट मैच में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मिली पारी और 137 रन की जीत के बाद कहा, ‘इस टीम में सात से आठ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्होंने 40 से अधिक टेस्ट मैच खेले हैं। इसलिए जब देखते हैं कि सीनियर ने कितने कड़े मानदंड स्थापित किए हैं, तो उनके लिए राष्ट्रीय टीम में जगह बनाना आसान नहीं होता है। वे जानते हैं कि टीम में जगह बनाने के लिए उन्हें हमसे बेहतर प्रदर्शन करना होगा।’ 

imgThird party image reference

पेसर उमेश ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में छह विकेट लेकर भारत की बड़ी जीत में एक अहम भूमिका निभाई थी। जसप्रीत बुमराह की वापसी के बाद भी वह चौथी पसंद के तेज गेंदबाज हो जाएंगे। 

imgThird party image reference

उन्होंने आगे कहा, ‘यह मेरे हाथ में नहीं है। मैं यह नहीं कह सकता कि मैं सभी टेस्ट मैचों में खेलूंगा। सभी गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है और हर किसी को किसी ने किसी मुकाम पर मौका मिलेगा। मैं इसके लिए तैयार हूं और मैंने खुद को मानसिक तौर पर इसी तरह से तैयार किया है।’

imgThird party image reference

31 वर्षीय उमेश ने यह भी कहा, ‘जब मैं वेस्ट इंडीज में नहीं खेला तो चयनकर्ताओं ने साउथ अफ्रीका ए सीरीज के लिए मुझे भारत ए टीम में शामिल किया लेकिन जब वनडे और टी20 को खेले हुए लंबा समय बीत गया तो मैंने सिलेक्टर्स से कहा कि जो भी मैच हो उसमें मुझे मौका दें क्योंकि मेरे लिए मैच प्रैक्टिस अहम है। आपको अचानक ही कोई मैच खेलना पड़ता है, जो तेज गेंदबाज के लिए मुश्किल हो सकता है।’ 

imgThird party image reference

उमेश ने यह भी कहा कि सभी गेंदबाज साउथ अफ्रीका को फॉलोऑन देने के पक्ष में थे। लेकिन उन्होंने कहा, ‘हमने छोटे-छोटे स्पेल में गेंदबाजी की और हमें थकान नहीं लगी। सभी गेंदबाजों ने कहा कि हम गेंदबाजी करके जल्द से जल्द से मैच का परिणाम को हासिल करना चाहते हैं। हम आराम नहीं चाहते थे। हम नहीं चाहते थे कि बल्लेबाज कुछ समय तक मैच को आगे खींचें।’ यही वजह है की इस भारतीय पेसर ने खुशी जताई कि सपाट पिच पर टीम प्रबंधन ने पांच गेंदबाजों को उतारने का फैसला किया। 

imgThird party image reference

उन्होंने कहा, ‘विकेट में उछाल था लेकिन तेजी नहीं। हमें तेजी के लिए गेंद को जोर से पिच कराना पड़ रहा था। तेज गेंदबाज अपनी पूरी ताकत से तीन ओवर करेंगे और फिर स्पिनर आएंगे, यह अच्छा विचार था। जैसा चाहते थे हमने वैसा ही किया।’

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN