ऋषभ पंत की बांग्लादेश सीरीज के बाद होगी टीम से छुट्टी!

friends show

friends show

Author 2019-11-05 09:16:05

imgThird party image reference

भारतीय टीम में विकेटकीपर की बात की जाती है, तो हमेशा एक ही नाम सबसे पहले जो आता है वह पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की ही है। हाल के समय में धोनी जरूर टीम का हिस्सा नहीं है, लेकिन फिर भी मैच दर मैच उनकी कमी टीम को लगातार खल रही है। यह बात लगातार साफ हो रही है कि धोनी की कमी को पूरा करना इतना आसान नहीं होने वाला है और भविष्य भी काफी उज्जवल नजर नहीं आ रहा है।

2019 विश्व कप के बाद लगातार टीम प्रबंधन ऋषभ पंत को मौके दे रही है, लेकिन जिस तरह का प्रदर्शन इस युवा खिलाड़ी का रहा है उसे देखकर भविष्य के लिए ज्यादा उम्मीद नहीं जग रही है। पंत ने 2017 में भारत के लिए अपना अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला खेला था, लेकिन अभी तक वह अपने अंदर उन सुधार नहीं कर पाए हैं जोकि टीम प्रबंधन से उन्हें उम्मीद कर रही है।

पंत को इस साल हुए विश्व कप में भी मौका मिला था, जहां उन्होंने कुछ अच्छे पारियां खेली थी और उसके बाद ऐसा लगा था कि वह आगे जाकर भारतीय टीम के नंबर 1 विकेटकीपर बन जाए। हालांकि विश्वकप के बाद से पंत को जितने भी मौके मिले, सिर्फ एक पारी को छोड़कर उन्होंने लगातार निराश किया है। पंत की सबसे बड़ी खामी उनके खेलने का रवैया है, खासकर जिस तरह से वे अपना विकेट फेंक कर जाते हैं।

पंत की फ़ॉर्म या फिर उनकी काबिलिटी पर कभी भी किसी को शक नहीं था, लेकिन वो अपने टैलेंट को प्रदर्शन को तब्दील करने में नाकाम रहे हैं। पंत ने टी 20 विश्व कप के 6 टी 20 खेले हैं, जिसमें 119 रन ही बनाए हैं। इस बीच उन्होंने सिर्फ 65 रनों की अर्धशतकीय पारी ही खेली है। इसके अलावा वे लगातार अपने विकेट गंवा चुके हैं।

बल्लेबाजी के साथ-साथ उनकी कीपिंग पर भी लगातार सवाल खड़े होते हैं। खासकर जब कप्तान को डीआरएस लेना होता है, तो उसमें कीपर का महत्वपूर्ण रोल होता है। पंत इसमे भी लगातार असफल होते रहे हैं। हाल में दिल्ली टी 20 में भी पंत ने विकेट के पीछे कुछ गलत फैसले टीम को काफी महंगे हुए। दरअसल युजवेंद्र चहल के एक ही ओवर में मुशफिकुर रहीम को अंपायर ने इंदीडब्लू आउट नहीं दिया था, लेकिन रिप्ले में साफ तौर पर देखा जा सकता था कि वह आउट हैं। भारत अगर रिव्यू लेता है तो वो आउट हो जाते हैं। इसके अलावा उन्होंने सौम्या सरकार के कैच के लिए रिव्यू ले लिया, जबकि रिप्ले में साफ तौर पर दिख रहे थे कि उनकी ऐज नहीं लगाई गई थी। इसी कारण से भारत ने अपना रिव्यू भी गंवा दिया।

इसके अलावा लगातार पंत की आलोचना पूर्व खिलाड़ी और फैंस तो कर ही रहे हैं, साथ ही में टीम प्रबंधन भी उनके रवैये से ज्यादा खुश नजर नहीं आई। विराट कोहली, रवि शास्त्री और बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने उनके बारे में बयान दिए। पंत को टेस्ट की प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया है, उनकी जगह ऋद्धिमान साहा को बेहतर विकेटकीपर होने के कारण मौका मिल रहा है।

संजू बिल्डिंगन और इशान किशन जैसे खिलाड़ी अपने मौकों का इंतजार कर रहे हैं और इसी कारण से पंत के पास शायद अब ज्यादा नहीं हैं। पंत जिस तरह गैरजिम्म सूची के साथ लगातार खेल रहे हैं, उसको देखते हुए ऐसा ही लग रहा है कि बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज के लिए आखिरी मौका हो सकता है।

भारतीय टीम इस समय अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी 20 विश्व कप की तैयार कर रही है और निश्चित रूप से वो विकेटकीपर को लेकर फैसला लेने की इच्छा और अन्य खिलाड़ियों को बराबर मौके देने का फैसला करेगी।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD