ऋषभ पंत पर अब वीवीएस लक्ष्मण ने भी एक बात कही है

The Lallantop

The Lallantop

Author 2019-09-24 17:02:00

img

रिषभ पंत. और उनका खेल. इसपर बयान आने ख़त्म ही नहीं हो रहे. ताज़ी बात कही है वीवीएस लक्ष्मण ने. उनको लगता है, रिषभ को नंबर चार पर नहीं खेलना चाहिए.

रिषभ पंत फिलहाल थ्री डाउन खेलते हैं. नंबर चार इंडिया का कमज़ोर स्पॉट है. इस नंबर पर किसे खिलाना सबसे मुफ़ीद रहेगा, इसको लेकर सब फ़िक्रमंद हैं. सेम-टू-सेम हाल है रिषभ पंत का. उनका खेल अच्छा तो है, मगर वो अधीर हैं. आक्रामक खेलते हैं और इस चक्कर में कई बार बड़ा आसान विकेट दे बैठते हैं. लक्ष्मण का कहना है कि पंत का आक्रामक खेल नंबर चार पर उनके काम नहीं आ रहा है. ऐसे में उन्हें बैटिंग ऑर्डर में थोड़ा नीचे आना चाहिए. यहां वो वापस फॉर्म हासिल कर सकते हैं. उन्होंने कहा-

पंत के खेल की शैली यही है. वो हमेशा अटैकिंग खेलते हैं. अफ़सोस कि इंटरनैशनल क्रिकेट में वो चौथे नंबर पर कामयाब नहीं हो पाए. पंत को पांचवें और छठे नंबर पर बैटिंग करनी चाहिए. वहां आपको पास ख़ुद को एक्सप्रेस करने का मौका होता है. चौथे नंबर के हिसाब से कैसे खेलना चाहिए, ये फिलहाल पंत को पता नहीं है.

सुनील गावस्कर ने पंत के फॉर्म पर क्या कहा था?
सुनील गावस्कर ने पिछले दिनों ‘इंडिया टुडे’ से बातचीत में कहा था. कि रिषभ पंत अच्छे खिलाड़ी हैं, बस अभी ख़राब फॉर्म में चल रहे हैं. गावस्कर ने कहा था कि उनके ऊपर बहुत ज़्यादा दबाव नहीं बनाया जाना चाहिए. यही बात अब लक्ष्मण ने भी कही है. कि पंत महज 21 बरस के हैं. हर खिलाड़ी का बुरा फॉर्म आता है. ऐसे में पंत के ऊपर बहुत प्रेशर बनाना सही नहीं है. फॉर्म पर बोलते हुए लक्ष्मण ने कहा-

सारे खिलाड़ी इस दौर से गुजरते हैं. पंत का नैचुरल खेल बिना बंधे खुलकर खेलना है. इसी स्टाइल से उन्हें पहले जैसा रिज़ल्ट मिल रहा था, वो अभी नहीं मिल पा रहा है. वो बेहतर होने की कोशिश कर रहे हैं. पिछले मैच में वो स्ट्राइक रोटेट कर रहे थे.

शास्त्री ने क्या कहा था?
कोच रवि शास्त्री पंत के फॉर्म से निराश हैं. ‘स्टार स्पोर्ट्स’ को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने पंत को लेकर बात की. कहा कि ख़राब शॉट लगाकर आउट हो जाने की ग़लती पंत बार-बार कर रहे हैं. पंत ने कहा था, पंत के खेलने का स्टाइल बदलने की ज़रूरत नहीं. बस उन्हें थोड़ा सेंसिबल होकर, मौके की ज़रूरत समझकर उस हिसाब से खेलना सीखना होगा. विराट कोहली ने भी ऐसे ही मिज़ाज की बात कही थी. कि पंत से बस यही उम्मीद है कि वो स्थितियां अच्छे से पढ़ें. हालात समझें.

बैटिंग कोच ने कहा था- फीयरलेस चाहिए, केयरलेस नहीं
2020 में T20 वर्ल्ड कप है. भारत उसपर फोकस कर रहा है. ऐसे में पंत को एक भरोसेमंद खिलाड़ी की तरह क्यूरेट करने की कोशिश की जा रही है. जो न केवल बड़े शॉट लगाए. बल्कि ज़रूरत पड़ने पर टिककर खेले भी. टीम और मैच की ज़रूरत के हिसाब से ढले. मगर उनके शॉट सिलेक्शन और मिज़ाज पर लगातार बयानबाजियां हो रही हैं. टीम के बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ ने भी पिछले दिनों कहा था. कि भारतीय बल्लेबाजों को अनुशासन दिखाना होगा. राठौड़ ने कहा था-

सारे युवा खिलाड़ियों को समझना चाहिए. निडर होकर खेलने और लापरवाह होकर खेलने में अंतर है. आप लापरवाह नहीं हो सकते. मुझे लगता कि खिलाड़ी इतने समझदार हैं कि ये समझ जाएंगे.

Ind vs SA : विराट कोहली ने बताया, किसकी वजह से ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर कन्फ्यूज हुए

Ind vs WI: MS धोनी की जगह ऋषभ पंत बेहतर या ऋद्धिमान साहा?

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN