ओपनिंग के टेस्ट में रोहित पास

Divya Himachal

Divya Himachal

Author 2019-10-03 02:50:15

imgविशाखापट्टनम – सीमित ओवर की क्रिकेट के बादशाह रोहित शर्मा टेस्ट ओपनिंग में पहली बार उतरे और नाबाद शतक ठोंककर छा गए। रोहित के नाबाद 115 और उनकी मयंक अग्रवाल (नाबाद 84) के साथ पहले विकेट के लिए 202 रन की अविजित साझेदारी की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के वर्षा बाधित पहले दिन बुधवार को बिना कोई विकेट खोए 202 रन बना लिए। पहले टेस्ट के पहले दिन 59.1 ओवर का खेल ही संभव हो पाया। बारिश के कारण खेल निर्धारित समय से काफी पहले समाप्त करना पड़ा, लेकिन इस दौरान रोहित ने शानदार शतकीय पारी खेल कर दिखा दिया कि वह लंबे फार्मेट में भी लंबी पारी खेलने की महारत रखते हैं। स्टंप्स तक रोहित 174 गेंदों पर नाबाद 115 रन में 12 चौके और पांच छक्के लगा चुके थेश् जबकि मयंक ने 183 गेंदों पर नाबाद 84 रन में 11 चौके और दो छक्के लगाए हैं। मैच का पहला दिन पूरी तरह रोहित के नाम रहा जिन्होंने ओपनिंग में पहली बार उतारकर पहला और कुल चौथा टेस्ट शतक बनाकर आलोचकों को करारा जवाब दे दिया, जो बराबर उनकी टेस्ट क्षमताओं पर सवाल उठाते रहे थे। रोहित यहां ओपनिंग में उतरने से पहले विजयनगर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अभ्यास मैच में बतौर ओपनर मात्र दो गेंदों में खाता खोले बिना आउट हुए थे, लेकिन कप्तान विराट कोहली ने मैच की पूर्वसंध्या पर रोहित पर पूरा भरोसा जताते हुए स्पष्ट कर दिया था कि रोहित पहले टेस्ट में ओपनिंग करने जा रहे हैं। रोहित ने कप्तान विराट और टीम प्रबंधन का भरोसा कायम रखा और अपनी शतकीय पारी के दौरान कई रिकार्ड बना डाले। टीम प्रबंधन ने इस सीरीज में लोकेश राहुल की जगह छोटे फार्मेट के तूफानी ओपनिंग बल्लेबाज रोहित को आजमाने का फैसला किया और यह दांव जैकपॉट साबित हुआ। भारत ने टॉस जीतने के बाद लंच तक 91 रन और चायकाल तक 202 रन बनाये थे। खराब रोशनी के के कारण चायकाल 59.1 ओवर के बाद ले लिया गया, क्योंकि उस समय खेल रोकना पड़ा था। इसके बाद बारिश हुई और खेल शुरू होने की संभावना ़खत्म हो गयी। अंपायरों ने फिर दिन का खेल समाप्त करने का फैसला किया। दक्षिण अफ्रीका के तेज और स्पिन गेंदबाज भारतीय ओपनरों पर कोई प्रभाव नहीं छोड़ पाए और विकेट के लिए तरसते रहे। उन्हें बारिश के आने से ही राहत मिली।

पैड पहन सीधे मैदान में उतरना करता है सूट

टेस्ट में पहली बार सलामी बल्लेबाजी कर शतक जमाने वाले भारत के रोहित शर्मा का कहना है कि उनको पैड पहन कर सीधे बल्लेबाजी करने जाने वाला खेल सूट करता है। रोहित ने साउथ अफ्रीका के साथ यहां एसीए-वीसीए स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन बुधवार को नाबाद 115 रन बनाए हैं। मैच के बाद रोहित ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वह पैड पहन सीधा विकेट पर बल्लेबाजी करना पसंद करते हैं। रोहित ने कहा कि मेरे गेम को यह सूट करता है कि मैं पैड पहन कर जाकर सीधे बल्लेबाजी करूं। मैं पहले जब पांच या छह नंबर पर बल्लेबाजी करता थ,ा तो मैं यह नहीं कह सकता कि वह मुझे सूट नहीं किया, लेकिन सलामी बल्लेबाजी के समय आपका दिमाग एकदम तरोताजा रहता है। आपको पता है कि आपको नई गेंद खेलनी है। गेम प्लान थोड़ा आसान रहता है। छह नंबर पर आप जाते तो गेंद रिवर्स स्विंग होता है, फील्ड प्लेसमेंट अलग होती है। आपको रन सामने बनाने पड़ते हैं। मुझे लगता है कि मेरे खेल के लिए सीधा पैड पहन खेलने जाना सूट करता है।

बतौर ओपनर पहले मैच में शतक जमाने वाले चौथे भारतीय

टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज रोहित शर्मा ने टेस्ट में ओपनर के तौर पर अपनी पहली पारी में दमदार प्रदर्शन किया। उन्होंने बुधवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट मैच में शतक जड़ा। ओपनर के तौर पर टेस्ट करियर में यह उनकी पहली सेंचुरी है। रोहित शर्मा इसी के साथ भारतीय ओपनरों की एक खास लिस्ट में शामिल हो गए हैं। वह ओपनर के तौर पर अपनी पहली टेस्ट पारी में शतक लगाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले शिखर धवन, लोकेश राहुल और युवा पृथ्वी शॉ यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं।

तीनों फार्मेट में ओपनर के तौर पर शतक जड़ने वाले पहले खिलाड़ी

32 वर्षीय रोहित नाबाद शतक के साथ अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फार्मेट (टेस्ट, वनडे और टी-20) में बतौर ओपनर शतक लगाने वाले क्रिकेट इतिहास के पहले खिलाड़ी बन गए हैं। रोहित इस दशक में टेस्ट शतक पूरा करने से पहले पारी में चार छक्के जड़ने वाले पहले भारतीय ओपनर भी बन गए हैं।

लगातार छह पारियों में 50 प्लस, द्रविड़ की बराबरी पर

रोहित पूर्व कप्तान और श्रीमान भरोसेमंद राहुल द्रविड़ के बाद ऐसे दूसरे भारतीय बन गए हैं, जिन्होंने घरेलू मैदान पर टेस्ट की लगातार छह पारियों में 50 या उससे अधिक का स्कोर बनाया है। रोहित लगातार छह पारियों में 82, नाबाद 51, नाबाद 102, 65, नाबाद 50 और नाबाद 115 रन बना चुके हैं। द्रविड़ ने 1997-1998 के दौरान टेस्ट में भारत में लगातार छह बार 50 से अधिक की पारियां खेली थीं। रोहित ने 2016 से 2019 के दौरान यह उपलब्धि हासिल की है।

रोहित शर्मा ने की ब्रैडमैन की 98.22 औसत की बराबरी

बुधवार को रोहित शर्मा ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच के पहले दिन शानदार शतक लगाया। इसके साथ ही रोहित ने घरेलू धरती पर आस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन के बल्लेबाजी औसत 98.22 की बराबरी भी कर ली। ब्रैडमैन ने घरेलू धरती पर खेलीं 50 पारियों में 98.22 के औसत से 4322 रन बनाए। वहीं, रोहित ने 15 पारियों में 884 रन इसी औसत से बनाए हैं। दिन का खेल समाप्त होने के बाद रोहित ने कहा कि उनकी योजना अपनी क्षमताओं पर भरोसा करना और उसी के अनुसार बल्लेबाजी करना था।

ओपनर जोड़ी की 24 पारियों के बाद शतकीय साझेदारी

भारतीय ओपनर्स ने 24 पारियों के बाद शतकीय साझेदारी की। पिछली बार अफगानिस्तान के खिलाफ 2018 में बंगलूर में शिखर धवन और मुरली विजय ने शतकीय साझेदारी की थी। रोहित ने करियर का चौथा शतक लगाया। रोहित ने 10 पारियों के बाद 100+ रन बनाए।

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN