कर्नाटक ने चौथी बार जीता विजय हजारे ट्रॉफी का खिताब

Vir Arjun

Vir Arjun

Author 2019-10-26 10:31:00

img

बेंगलुरु । कर्नाटक ने शुक्रवार को तमिलनाडु को 60 रन से हराकर चौथी बार विजय हजारे ट्रॉफी का खिताब जीत लिया है। खिताबी मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए तमिलनाडु ने 49.5 ओवर में 252 रन बनाए। जवाब में कर्नाटक ने जब 23 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 146 रन बना लिए थे, तभी बारिश आ गई। बारिश नहीं रुकने के कारण कर्नाटक को वीजेडी मेथड के अनुसार 60 रन से विजेता घोषित किया गया। बता दें कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बारिश आने की स्थिति में मैच में डकवर्थ लुईस नियम का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन घरेलू क्रिकेट में भारत इस नियम की जगह वीजेडी मेथड का इस्तेमाल करता है।

कर्नाटक ने फाइनल में टॉस जीतकर तमिलनाडु को पहले बल्लेबाजी करने का निमंत्रण दिया। तमिलनाडु ने अभिनव मुकुंद के बेहतरीन अर्धशतकीय पारी (85) और बाबा अपराजित के 84 गेंदों पर 7 चौके की मदद से बनाए गए 66 रनों की बदौलत 49,5 ओवरों में 252 रनों का स्कोर खड़ा किया। इन दोनों के अलावा विजय शंकर ने 38 रन, कप्तान दिनेश कार्तिक 11, शाहरुख खान 27, वॉशिंगटन सुंदर दो, एम. मोहम्मद 10 और मुरुगुन अश्विन ने 10 रन बनाए।

कर्नाटक की ओर से अभिमन्यु मिथुन ने अपने जन्मदिन के मौके पर 9.5 ओवर में 34 रन देकर 5 विकेट हासिल किया। उन्होंने आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर शाहरुख खान, चौथी गेंद पर एम मोहम्मद और पांचवीं गेंद पर मुरुगन अश्विन का विकेट लेकर हैटट्रिक पूरा किया। मिथुन कर्नाटक की ओर से हैटट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज हैं। इसके अलावा वी. कौशिक ने दो विकेट लिए। प्रियम और कृष्णाप्पा गौतम ने एक-एक सफलता मिली।

कर्नाटक ने लक्ष्य का पीछा करते हुए तेजी से बल्लेबाजी की। टीम ने जब 23 ओवर में एक विकेट पर 146 रन बनाए, तब बारिश के कारण खेल रोकना पड़ा। सलामी बल्लेबाज केएल राहुल 52 और मयंक अग्रवाल 69 रन पर नाबाद थे। लगभग 40 मिनट तक बारिश नहीं रूकने के बाद अंपायरों ने मैच को यही समाप्त कर दिया। उस समय कर्नाटक वीजेडी प्रणाली से तमिलनाडु से 60 रन आगे था। हिस

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD