कोहली की टीम का खिलाड़ी मैच फिक्सिंग में गिरफ्तार

Talentedindia

Talentedindia

Author 2019-11-07 14:29:33

img

क्रिकेट में फिक्सिंग को लेकर खिलाड़ियों से पूछताछ जारी है| साल 2018 कर्नाटक प्रीमियर लीग (Karnataka Premier League) में हुई फिक्सिंग को लेकर बेंगलुरु ब्लास्टर्स के पूर्व ओपनर एम. विश्वनाथन (M. Vishwanathan) और इसी टीम के गेंदबाजी कोच विनु प्रसाद (Vinu Prasad) को गिरफ्तार किया गया था| वहीँ अब बेल्लारी टीम के कप्तान सीएम गौतम और बहरार काजी को गिरफ्तार किया गया है| केपीएल 2019 के फाइनल में हुई स्पॉट फिक्सिंग के लिए दोनों को गिरफ्तार किया गया है|

img

केपीएल 2019 का फाइनल मैच हुबली और बेल्लारी के बीच खेला गया था| उन्हें धीमी बल्लेबाजी के लिए 20 लाख रुपए दिए गए थे| सीएम गौतम रणजी और आईपीएल खेल चुके हैं| उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू की तरफ से मैच खेला है| आईपीएल में आरसीबी की कप्तानी विराट कोहली करते हैं| इससे पहले पिछले शुक्रवार को एम. विश्वनाथन और गेंदबाजी कोच विनु प्रसाद को गिरफ्तार किया गया था| कर्नाटक प्रीमियर लीग  2018 के 18वें मुकाबले में दोनों चंडीगढ़ के बुकी मनोज कुमार (Manoj Kumar) उर्फ मोंटी के जरिए स्पॉट फिक्सिंग का हिस्सा बने थे|

img

कोच पर आरोप है कि उसने सट्टेबाजों के साथ मिलकर बेंगलुरु ब्लास्टर्स और बेलागवि पैंथर्स के बीच खेले गए मैच को फिक्स किया था| संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) संदीप पाटिल ने कहा, “केंद्रीय अपराध शाखा (बेंगलुरु) ने मैच फिक्सिंग के एक और मामले का उजागार किया| सीसीबी ने केपीएल की एक टीम के गेंदबाजी कोच और बल्लेबाज को सट्टेबाजों के साथ मिलकर मैच फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार किया| बल्लेबाज ने बड़ी रकम के एवज में धीमी बल्लेबाजी की| मामले की जांच जारी है|”

img

बेंगलुरु ब्लास्टर्स टीम के गेंदबाजी कोच विनू प्रसाद और बल्लेबाज विश्वनाथन को पिछले हफ्ते शुक्रवार को मैच फिक्सिंग के एक अलग मामले में गिरफ्तार किया गया था. कोच पर पिछले साल बेंगलुरु ब्लास्टर्स और बेलागावी पैंथर्स टीम के बीच केपीएल के तहत खेले गए मैच को प्रभावित करने का आरोप था|

-Hriday Kumar

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD