जब तक विकल्प तैयार नहीं होता, संन्यास नहीं लेंगे धोनी

Republic Hindi

Republic Hindi

Author 2019-09-25 15:40:38

img

रिपब्लिक डेस्क: भारतीय क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का जब तक विकल्प नहीं तैयार हो जाता तब तक वह संन्यास नहीं लेंगे. उनसे संन्यास को लेकर भले ही सभी चर्चा कर रहे हों लेकिन धोनी अपनी अहमियत जानते हैं. भले ही वह कप्तान न हों लेकिन टीम इंडिया के प्रति उनकी जिम्मेदारी कम नहीं हुई है. फिलहाल टीम इंडिया में उनके विकल्प के तौर पर ऋषभ पंत को विकेटकीपर रखा गया है लेकिन वह सेट नहीं हो पा रहे. टीम प्रबंधन ने भी साफ कर दिया है कि धोनी के विकल्प के तौर पर ऋषभ पंत उनकी स्वाभाविक पसंद हैं.

यही वजह है कि पंत को लगातार विफल होने के बावजूद भी मौके दिए जा रहे हैं और चौथे नंबर के बल्लेबाज के तौर पर भी पंत टीम प्रबंधन का विश्वास हासिल करने में सफल रहे हैं. ये और बात है कि पंत क्रीज पर जमने के बाद अपना विकेट तोहफे में देने के चलते आलोचनाओं का शिकार भी हो रहे हैं. इस मामले में अब नया खुलासा हुआ है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी खुद ही ऋषभ पंत को अपने विकल्प के तौर पर तैयार करना चाहते हैं. यही वजह है कि उन्होंने अभी तक संन्यास नहीं लिया है.

दरअसल, महेंद्र सिंह धोनी ने आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में टीम इंडिया की हार के बाद से एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है. मगर अब इस बात की सच्चाई सामने आई है कि आखिर उन्होंने ऐसा किया क्यों है. डीएनए की रिपोर्ट के अनुसार, माना जा रहा था कि धोनी इंग्लैंड में आयोजित हुए वनडे वर्ल्ड कप के बाद ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन उन्होंने ऐसा इसलिए नहीं किया ताकि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए बीसीसीआई को ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को तैयार करने के लिए अधिक समय मिल जाए. इतना ही नहीं, धोनी चाहते हैं कि पंत टी-20 वर्ल्ड कप में उनके विकल्प के तौर पर तो तैयार किए ही जाएं, बल्कि पंत के बैकअप के तौर पर भी अन्य विकेटकीपरों को तराशने का काम भी बीसीसीआई इस दौरान कर ले.

दिसंबर में वापसी

महेंद्र सिंह धोनी ने न केवल वेस्टइंडीज दौरे से खुद को अलग किया, बल्कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज के लिए भी खुद को अनुपलब्ध बताया था. इतना ही नहीं, इसके बाद नवंबर में बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली सीमित ओवर की सीरीज के लिए भी धोनी ने बीसीसीआई से अपने नाम पर विचार न करने को कहा है. हालांकि इस बात की पूरी संभावना है कि महेंद्र सिंह धोनी दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू जमीन पर होने वाली सीरीज मैं मैदान में कदम रख सकते हैं. हालांकि इसे लेकर अभी किसी तरह की पुष्टि नहीं की गई है. बांग्लादेश का भारत दौरा 3 नवंबर से शुरू होगा, जबकि वेस्टइंडीज की टीम दिसंबर में भारत के खिलाफ खेलेगी.

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD