टेस्ट क्रिकेट में 199 और 299 रनों पर नाबाद लौटने वाले 3 बल्लेबाज

friends show

friends show

Author 2019-10-26 10:13:04

imgThird party image reference

दोस्तों क्रिकेट में कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं, जो अपने साथी खिलाड़ियों के कारण दोहरा शतक या तिहरा दोहरा बनाने से चूक गए थे। जिन तीन खिलाड़ियों की आज हम बात करने जा रहे हैं। वह दिग्गज खिलाड़ी दूसरे छोर से अपने साथी खिलाड़ियों के आउट होने के कारण 199 या 299 रन के बड़े स्कोर पर नाबाद लौटे थे।

दोहरा शतक या तिहरा शतक लगाना टेस्ट क्रिकेट में एक बहुत बड़ी उपलब्धि मानी जाती है लेकिन इन तीन दिग्गज खिलाड़ियों को अपने साथी खिलाड़ियों की वजह से इस ख़ास उपलब्धि से दूर रहना पड़ा था, तो आइये बात करते हैं इन तीन दुर्भाग्यपूर्ण खिलाड़ियों के बारे में ... 199 या 299 के स्कोर पर नाबाद लौटे थे।


3. एंडी फ्लावर

imgThird party image reference


जिम्बाब्वे टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज एंडी फ्लावर वर्ष 2001 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 199 रन पर नाबाद रह गए थे। दरअसल, इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी 600/3 पर घोषित की थी। जिसके जवाब में जिम्बाब्वे की टीम पहली पारी में 286 रन पर ही सिमट गयी थी।

एंडी फ्लावर ने पहली पारी में जिम्बाब्वे के लिए 142 रन की पारी खेली थी। दूसरी पारी में भी एंडी फ्लावर ने अच्छा प्रदर्शन किया, वह अपने दोहरे शतक के बिल्कुल करीब 199 रन पर खेल रहे थे। केवल जि तिरुवनंतपुरम टीम के आखिरी विकेट के रूप में डगलस होंडो आउट हो गए और एंडी फ्लावर 199 रन पर नाबाद रह गए। दक्षिण अफ्रीका ने इस मैच को 9 विकेट से जीत लिया था, लेकिन मैन ऑफ़ द मैच का पुरस्कार एंडी फ्लावर को ही मिला था।


2. कुमार संगकारा

imgThird party image reference

कुमार संगकारा श्री टीम के पूर्व कप्तान भी रह चुके हैं। कुमार संगकारा 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ गॉल टेस्ट मैच में शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे। कुमार संगकारा अपने दोहरे शतक के बेहद ही करीब थे। वह अंतिम विकेट के रूप में प्रदीप के साथ 27 रन बना चुके थे।

जिसमें प्रदीप का योगदान केवल 4 गेंद खेलने का था। केवल हफीज की एक गेंद ने प्रदीप को बोल्ड आउट कर दिया और कुमार संगकारा अपना दोहरा शतक नहीं बना सके थे।


  1. डॉन ब्रैडमैंन
imgThird party image reference

डॉन ब्रैडमैन ऑस्ट्रेलिया टीम के बहुत ही महान बल्लेबाज थे। डॉन ब्रैडमैन ने वर्ष 1931-1932 एडिलेट में खेले गए टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से किया था। जिसमें दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अपनी पहली पारी में 308 रन बनाए थे।

जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने ब्रैडमैन के दोहरे शतक के चलते 500 रन बनाए थे। जब ऑस्ट्रेलिया के 9 विकेट गिर गए थे और ब्रैडमैन 299 रन पर खेल रहे थे, तो उनके साथ अंतिम विकेट के लिए 14 रन जोड़ चुके हैं उनके साथी खिलाड़ी थरलो रन आउट हो गए थे और ब्रैडमैन अपना तिहरा शतक पूरा नहीं कर पाए थे।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD