तलेन के खेल मैदान पर बन रहीं दुकानों पर रोक

Patrika

Patrika

Author 2019-10-06 06:01:11

Patrika

img

तलेन/ राजगढ़. विवादों के बावजूद तलेन नगरपरिषद द्वारा खेल मैदान पर बनाई गई दुकानों के काम पर एक बार फिर रोक लगी है। इस बार हाईकोर्ट की इंदौर बेंच ने खेल मैदान पर बन रहीं दुकानों का निर्माण रोकने का आदेश जारी किया है। शहर में खेल मैदान पर गलत तरीके से बनी इन दुकानों का कुछ समय पूर्व ही प्रभारी मंत्री जयवर्धन सिंह ने लोकापर्ण किया था। जानकारी अनुसार नगरपालिका द्वारा खेल मैदान के लिए बनाई जा रही इन दुकानों का निर्माण रोकने के लिए नगर के खेल प्रेमियों द्वारा लगाई आपत्ति को पूर्व में कलेक्टर ने खारिज कर दिया था। इसके बाद नपा ने यहां आनन-फानन में दुाकनों का निर्माण करवा दिया ओर विरोध के बावजूद प्रभारी मंत्री को अधूरी जानकारी देकर 16 सितंबर को दुकानों का उद्घाटन करवा लिया था।

इधर कलेक्टर के आदेश पर असंतुष्टि जताते हुए शहर के राकेश कुंभकार, सलीम मंसूरी, सगीर कुरैशी, युसुफ मेव, श्याम वात्रे द्वारा उच्च न्यायालय की इंदौर बेंच में एक याचिका दायर की गई थी। इसमें इस मामले को लेकर पत्रिका द्वारा लगाई खबरों को हवाला भी दिया गया। इसी याचिका के आधार पर हाईकोर्ट ने दुकानों का निर्माण के संबंध में हुए सभी कार्यों पर स्थगन आदेश जारी किया है। न्यायालय द्वारा इस संबंध में नपा सीएमओ और जिलाधीश को भी नोटिस दिया गया है। इसमें दुकानों के निर्माण संबंध में कार्य तत्काल रोकने के आदेश दिए गए है। न्यायालय के आदेश का पालन न करने की दशा में उपयुक्त विभाग के खिलाफ कोर्ट की अवहेलना की कार्रवाई की जा सकती है।

शुरू से विवादों में रहा है निर्माण
नगरपरिषद द्वारा जिस जमीन पर दुकानों का निर्माण किया गया है। उस जमीन को 5 मार्च 2015 के तत्कालीन कलेक्टर ने खेल मैदान निर्माण के लिए आवंटित किया था। आवंटन की शर्तों में यह स्पष्ट उल्लेख था कि इस जमीन का उपयोग किसी भी स्थिति में व्यवसायिक कार्यों में नहीं होगा। इसके बावजूद शहरवासियों के विरोध को दरकिनार कर नगरपरिषद ने यहां दुकानों का निर्माण शुरू कर दिया। शहरवासियों की शिकायत के बाद 24 नवंबर 2018 को सारंगपुर एसडीएम ने दुकानों के निर्माण पर रोक लगा दी। लेकिन नगरपरिषद ने गुपचुप तरीके से दुकान का निर्माण जारी रखा ओर 21 दुकानें बना लीं। कलेक्टर इन दुकानों के निर्माण की अनुमति देते हुए अन्य किसी भी दुकान का निर्माण नहीं करने के आदेश जारी किए। इस बीच शिकायतकर्ता सहित शहरवासियों ने इन दुकानों का निर्माण रोकने के लिए कई प्रयास किए लेकिन नपा ने 16 सितंबर को दुकानों का उदघाटन करवाते हुए उसकी नीलामी के लिए बंद लिफाफों में निविदा भी ले ली है। अब जाकर 3 अक्टूबर को न्यायालय से दुकानों के निर्माण पर रोक लगी है।

इधर 3 अक्टूबर को हाईकोर्ट द्वारा लगाई रोक के बावजूद नगरपरिषद ने शनिवार तक दुकानों का निर्माण जारी रखा। ऐसे में इस मामले को लेकर न्यायालय तक गए शिकायताकर्ताओं में शामिल राकेश कुंभकार ने राजगढ़ पहुंच कलेक्टर से पूरे मामले की शिकायत की। हालाांकि इसके बावजूद दोपहर बाद तक दुकानों का निर्माण जारी था। इधर कलेक्टर ने शिकायतकर्ताओं को न्यायालय के आदेश अनुसार कार्रवाई का आश्वासन दिया।
&फिलहाल मेरे पास कोई आदेश नहीं आया है, मिलेगा तब न्यायालय के आदेश अनुसार कार्रवाई की जाएगी। वैसे इस मामले में कलेक्टर सक्षम अधिकारी है। आदेश के संबंध में जानकारी उन्हीं की कोर्ट से मिलेगी।
एसएल सोलंकी, एसडीएम सारंगपुर

READ SOURCE

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN