दैनिक भास्कर 15 अक्टूबर 2019

Pradesh Today

Pradesh Today

Author 2019-10-15 15:34:07

img

जरा संभल के जिन्दगी का मोड़ काट, इक हादसा भी ताक में होगा यहीं कहीं......परवान चढ़ती उम्मीदों का झटक कर गिर जाना कई बार बर्दाश्ते काबिल नहीं होता। ऐसा ही कुछ होशंगाबाद और इटारसी के बीच गड्ढे से उछली कार के पेड़ से टकरा कर नाले में गिरने से हुआ। हॉकी के चार राष्ट्रीय खिलाड़ियों की मौत ने वाकई सबको हिला दिया। या अल्लाह यह क्या हो रहा है। अमां खां अपने ही मुल्क मेें जन्मे अभिजीत बनर्जी और उसकी फ्रांसीसी बेगम एस्तेय व अमेरिकी अर्थशास्त्री माइकल क्रेमर को इनामो-इकराम के चलते नोबेल पुरस्कार मिलने की खबर ध्यान खींचती है। लेकिन इस खबर की हैडिंग में गलती कर दी है। नंबर वन की दौड़ में लगे अखबार में मिला की जगह पर म लिा लिखा है जो यह दर्शाता है कि उसके सिपहसालार हांफने लगे हैं। इससे पहले दशहरे पर भी हैडर के नीचे की गलती में निगाहें नीची हो चुकी हैं जनाब की। बालाकोट में अपना ही हेलिकॉप्टर मार गिराने के मामले में छह अफसरों पर कार्रवाई यह बताती है कि हमारे अधिकारी कितने जागरूक हैं। क्रिकेट में बाउंड्री काउंट खत्म की खबर यह बताती है कि अब क्रिकेट भी सुपर क्रिकेट होता जा रहा है। मैग्नीफिसेंट एमपी में अब एक नया कारनामा देखने को मिल सकता है। पहले केवल एमओयू ही साइन हुआ करते थे लेकिन अब समिति से एक दिन पहले ही 850 करोड़ के पांच प्रोजेक्ट का लोकार्पण होगा। इससे अंदाजा लग रहा है कि जमीन से जुड़ कर इस बार कुछ काम नजर आ सकता है। स्मार्ट सिटी के गड्ढों का पानी सड़क पर छोड़ने की खबर लोगों की परेशानियों का सबब बनती जा रही है। पुलिस के हेल्थ कार्ड में 70 प्रतिशत टेंशन में और 40 को हाई बीपी की खबर में गुणा भाग गलत नजर आता है।

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN