भारत के 2015 दौरे से सीखा सबक 

Divya Himachal

Divya Himachal

Author 2019-10-02 02:42:12

imgविशाखापट्टनम – साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने चार साल पहले भारत के मुश्किल दौरे से सबक सीखे हैं और उन्हें उम्मीद है कि बुधवार से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के बाद टीम के युवा सदस्य बेहतर क्रिकेटर बनकर उभरेंगे। भारत के पिछले दौर पर दक्षिण अफ्रीका की टीम के पास रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा की स्पिन जोड़ी का कोई जवाब नहीं था और टीम को चार मैचों की सीरीज में 0-3 से हार झेलनी पड़ी थी। डु प्लेसिस उस सीरीज के दौरान सात पारियों में सिर्फ 60 रन बना पाए थे। डु प्लेसिस ने कहा, अगर आपके खेल में कोई कमी है तो टेस्ट क्रिकेट इसे उजागर कर देता है। बेशक पिछली बार हम यहां बल्लेबाजी इकाई के रूप में आए थे और मुश्किल हालात में मुझे परेशानी का सामना करना पड़ा था। तथ्य यह है कि मुश्किल हालात से सामंजस्य बैठाने के लिए मुझे रक्षात्मक और तकनीकी रूप से बेहतर होने की जरूरत है। डु प्लेसिस ने कहा, पिछली बार गेंद काफी स्पिन हो रही थी। इस बार इतना टर्न मिलने की उम्मीद नहीं है। तब विकेट काफी सूखे थे और अनुभवी बल्लेबाजी क्रम होने के बावजूद हमें जूझना पड़ा था। हम हमारी टीम युवा है इसलिए कोई दबाव नहीं है।

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN