भारत ने अफ्रीका को दिया 395 रनों का टारगेट

Hindustan Khabar

Hindustan Khabar

Author 2019-10-06 14:18:38

img

विशाखापत्तनम टेस्ट मैच में भारत जीत से 1 विकेट दूर है. 395 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने दूसरी पारी में 9 विकेट गंवा कर 161 रन बनाए हैं. इससे पहले टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट गंवाकर 502 रन बनाए और अपनी पहली पारी घोषित कर दी. जवाब में दक्षिण अफ्रीका अपनी पहली पारी में 431 रनों पर ऑलआउट हो गई. पहली पारी के आधार पर भारत को 71 रनों की बढ़त मिली. दूसरी पारी में भारत ने 4 विकेट खोकर 323 रन बनाए और दक्षिण अफ्रीका के सामने 395 रनों का लक्ष्य रखा.

थ्यूनिस डी ब्रूइन 10 रन बनाकर अश्विन की गेंद पर आउट हुए. मोहम्मद शमी ने टेम्बा बवूमा को खाता खोले बिना ही पवेलियन भेज दिया. इससे पहले ओपनर डीन एल्गर चौथे दिन 2 रन बनाकर रवींद्र जडेजा की गेंद पर आउट हो गए. फाफ डु प्लेसिस 13 रन बनाकर शमी की गेंद पर ही बोल्ड कर दिया. क्विंटन डि कॉक खाता खोले बगैर शमी की गेंद पर ही बोल्ड हो गए. एडेन मार्करम 39 रन बनाकर रवींद्र जडेजा की गेंद पर पवेलियन लौट गए. जडेजा ने वर्नोन फिलेंडर (0) और केशव महाराज (0) को एलबीडब्ल्यू कर दिया.

दक्षिण अफ्रीकी टीम जडेजा और शमी की घातक गेंदबाजी के आगे नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई. मेहमान टीम ने 60 रन तक अपने पांच विकेट गंवा दिए थे. इन पांच विकेटों में थ्यूनिस डी ब्रूइन (10), उप-कप्तान टेम्बा बावूमा (0), कप्तान फाफ डु प्लेसिस (13), क्विंटन डि कॉक (0) के विकेट शामिल हैं. ऐसा लग रहा था कि टीम इसके बाद इन झटकों से उबर जाएगी. लेकिन 70 रन के स्कोर पर ही उसने तीन लगातार तीन विकेट खो दिए, जिससे टीम अब हार के कगार पर पहुंच चुकी है. इन तीन विकेटों में मार्कराम (39), वर्नोन फिलेंडर (0) और केशव महाराज (0) के विकेट शामिल हैं.

अश्विन ने की मुरलीधरन के रिकॉर्ड की बराबरी

रविचंद्रन अश्विन ने दूसरी पारी में थ्यूनिस डी ब्रुइन को आउट कर सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने के मामले में पूर्व श्रीलंकाई स्पिन गेंदबाज मुथैया मुरलीधरन के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है. वहीं अश्विन सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन ने अपने टेस्ट करियर के 66वें मुकाबले में 350 विकेट लेने का कारनामा किया है. अब वह मुरलीधरन के साथ संयुक्त रूप से सबसे तेज 350 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं. मुरलीधरन ने भी अपने 66वें टेस्ट में बांग्लादेश के खिलाफ 2001 में 350 टेस्ट विकेट पूरे किए थे. मुरलीधरन टेस्ट में 800 विकेट का आंकड़ा छूने वाले दुनिया के इकलौते गेंदबाज हैं.

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN