मैच फिक्सिंग! जांच जारी, रिपोर्ट आने का इंतजार

News State

News State

Author 2019-09-17 10:50:47

img

नई दिल्ली :

तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) में फिक्सिंग के आरोपों की जांच बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी ईकाई कर रही है. इसी बीच लीग की गवर्निंग काउंसिल ने एक बयान जारी कर कहा है कि तमिलनाडु क्रिकेट संघ (TNCA) की उन लोगों के खिलाफ जीरो टोलरेंस नीति है, जो भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं और ऐसे लोगों के खिलाफ आरोप साबित होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन पीएस रमन ने बयान में कहा कि मीडिया में टीएनपीएल-2019 में भ्रष्टाचार को लेकर जो आरोप सामने आए हैं उन्हें लेकर टीएनसीए यह साफ करना चाहती है कि टीएनपीएल अपने पहले संस्करण 2016 से ही भ्रष्टाचार रोधी कार्यक्रम को आईसीसी और बीसीसीआई के नियमों के हिसाब से मजबूती से चला रही है. इसमें भ्रष्टाचार रोधी अधिकारी भी शामिल हैं जो टीमों पर और अधिकारियों पर नजर बनाए रखते हैं."

बयान के मुताबिक 2019 में यह टूर्नामेंट बीसीसीआई के बदले हुए भ्रष्टाचार रोधी नियम के साथ काम कर रहा था, जिसमें बीसीसीआई ने अपना अधिकारी नियुक्त किया था. टीएनपीएल में जब हमें कुछ गलत होने की सूचना मिली तो टीएनसीए ने अपनी एक जांच समिति का गठन किया. जब तक समिति आरोपों की जांच नहीं कर लेगी और अपनी रिपोर्ट नहीं दे देगी तब तक टीएनसीए इस मसले पर किसी तरह की टिप्पणी करने में असमर्थ है." पत्र में आगे लिखा है कि टीएनसीए हालांकि अपने सभी हितधारकों को यह भरोसा दिलाना चाहती है कि उसकी भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टोलरेंस नीति है."

उधर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की भ्रष्टाचार रोधी ईकाई (ACU) के मुखिया अजीत सिंह ने कहा है कि तमिलनाडु क्रिकेट प्रीमियर लीग (TNPL) में भ्रष्टाचार संबंधी जांच शुरू कर दी गई है. साथ ही तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) अपनी समिति की जांच का भी इंतजार कर रही है जो तकरीबन 20 दिनों से जारी है. ऐसी खबरें थी कि सट्टेबाजों ने T-20 लीग को पैसा बनाने के लिए उपयोग में लिया.

टीएनसीए के अधिकारी ने कहा कि शुरुआती रिपोर्ट और कुछ खिलाड़ियों द्वारा संघ को सूचित करने के बाद से ही जांच जारी है जिसे कुछ दिन हो गए हैं. अधिकारी ने कहा कि टीएनसीए की एक समिति है जो लगाए गए आरोपों के आधार पर इस मामले की जांच कर रही है, जांच रिपोर्ट अभी आना बाकी है, लेकिन यह जल्दी होना चाहिए. टीएनसीए को जो हो रहा है उसके बारे में काफी कुछ पता है और समिति भी जो जरूरी जांच है वो कर रही है.

टीएनपीएल में भारत के स्टार खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन, विजय शंकर, दिनेश कार्तिक, वॉशिंगटन सुंदर और मुरली विजय खेले थे. बीसीसीआई की एसीयू के अध्यक्ष ने कहा है कि ऐसे कुछ मौके थे जहां खिलाड़ियों से सट्टेबाजों ने संपर्क किया था.

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN