विराट कोहली दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तान हैं: शाहबाज नदीम

Navbharat Times

Navbharat Times

Author 2019-10-29 17:25:00

img

अमित कुमार, नई दिल्ली
कई साल घरेलू क्रिकेट खेलने के बाद शाहबाज नदीम ने आखिर साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में पदार्पण का मौका मिला। अपने घरेलू मैदान रांची पर बाएं हाथ के इस स्पिनर ने अपना पहला टेस्ट मैच खेला। झारखंड के इस क्रिकेटर को यह खबर मिली तो उन्होंने कोलकाता से रांची तक का सफर सड़क मार्ग से तय किया। शहबाज को अचानक ही टीम में शामिल किया गया और इसके बाद उन्हें लंबा सफर करके मैदान तक पहुंचना पड़ा लेकिन प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बन उनकी सारी थकान दूर हो गई। और आखिर उन्हें कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट कैप दी गई।

कुलदीप यादव के चोटिल होने के बाद नदीम को विकल्प के रूप में टीम में शामिल किया गया। उन्होंने अपने प्रदर्शन को सही साबित किया और चार विकेट लिए। भारत ने टेस्ट सीरीज में साउथ अफ्रीका का 3-0 से सफाया किया।

हमारी सहयोगी वेबसाइट Timesofindia.com को दिए एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में नदीम ने अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा, 'विराट (कोहली) एक शानदार कप्तान हैं। मैं यह कहना चाहूंगा कि वह विश्व के सर्वश्रेष्ठ कप्तान हैं। मैच में विकेट लेकर मैं खुश हूं। मैंने काफी घरेलू क्रिकेट खेला है और मेरे पास इसका काफी अनुभव है। मैं वह पूरा अनुभव अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस्तेमाल करना चाहता हूं। अपने पहले मैच के प्रदर्शन से मैं खुश हूं।'

नदीम ने साउथ अफ्रीका की पहली पारी में तेंबा बावुमा और एनरिच नॉर्त्जे को आउट किया वहीं दूसरी पारी में तेउनिस दे ब्रूयन और लुंगी नगिडी के विकेट लिए।

नदीम ने कहा, 'कोहली और मैंने मैच के दौरान विकेट और परिस्थितियों को लेकर काफी बात की। साउथ अफ्रीका के खिलाफ हमारी योजनाएं सफल हुईं। भारतीय टीम विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम है।'

नदीम ने कहा, 'विराट पैदाइशी कप्तान हैं। सिर्फ मैदान पर ही नहीं वह ड्रेसिंग रूम के वातावरण को जीवंत बनाए रखते हैं। वह मैदान पर हर गेंदबाज की मदद करते हैं। अपनी आक्रामकता और बल्लेबाजी क्षमता से वह भारतीय क्रिकेट को अलग स्तर पर ले गए हैं। मैं उनका धन्यवाद करना चाहता हूं कि उन्होंने मुझमें विश्वास जताया।'

img
भारतीय टीम के सीरीज जीतने के बाद नदीम ट्रोफी पकड़े भी नजर आए थे।

इस पर 30 वर्षीय इस स्पिनर ने कहा, 'जब विराट को विजयी ट्रोफी दी गई तो उन्होंने, व टीम के अन्य साथियों ने मुझे ट्रोफी पकड़ने को कहा।'

नदीम ने यह भी बताया कि मैच के बाद मुख्य कोच रवि शास्त्री ने किस तरह उनकी हौसलअफजाई की। उन्होंने कहा, 'शास्त्री सर ने मुझे कहा, 'तुमने शानदार गेंदबाजी की है।' उन्होंने मुझे शुभकामनाएं दीं और कहा कि मुझे इसी तरह अच्छा प्रदर्शन करते रहना चाहिए।'

नदीम ने रोहित शर्मा की भी तारीफ की। रोहित तीन मैचों की इस सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। रोहित ने पहली बार टेस्ट क्रिकेट में सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभाते हुए सीरीज में खेली चार पारियों में 139.25 के औसत से 529 रन बनाए।

नदीम ने कहा, 'रोहित हमेशा से शानदार बल्लेबाज हैं। अगर आप उनका रेकॉर्ड देखें, खास तौर पर पिछले पांच साल का तो आपको पता चलेगा कि वह कितने क्लासी खिलाड़ी हैं। वह आलोचकों को अपन बल्ले से जवाब देना जानते हैं। हम सब सीमित ओवरों के उनके रेकॉर्ड से वाकिफ हैं। जब उन्हें टेस्ट क्रिकेट में मौका मिला तो उन्होंने इस जमकर भुनाया। वह लाजवाब हैं।'

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD