शाहिद अफरीदी ने कोचिंग के सवाल पर कुछ ऐसा दिया रिएक्शन

LiveHindustan

LiveHindustan

Author 2019-09-29 16:22:38

img

अबू धाबी में होने वाले टी-10 क्रिकेट टूर्नामेंट में कलंदर्स की तरफ से खेलने वाले पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी के नाम क्रिकेट के कई रिकॉर्ड दर्ज हैं। क्रिकेट से संन्यास लेने के कई सालों बाद भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनका नाम प्रासंगिक बना हुआ है। 2018 में शाहिद अफरीदी ने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था, लेकिन टी-20 लीग में उनके नाम का डंका आज भी बजता है। हाल ही में जब उनसे कोचिंग को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस समय में सिर्फ क्रिकेट खेलने के बारे में सोच रहा हूं।

जब यूएई ने शाहिद अफरीदी को टी-10 लीग खेलने के लिए अबू धाबी बुलाया तो उन्होंने कलंदर्स के साथ जुड़ कर खुशी जाहिर की। यूएई में होने वाली यह टी-10 लीग अगले माह से शुरू होगी। इस ईवेंट के बारे में पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने कहा कि वह इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए बेचैन हैं। मैं फिट हूं इसलिए मैंने खेलना स्वीकार किया है। 

शाहिद अफरीदी ने विश्व कप 2019 में पाकिस्तान के खराब प्रदर्शन के बारे में कहा, 'टीम का प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा। लेकिन नए कोच के तहत टीम में कुछ बदलाव की उम्मीद हम कर सकते हैं।' अफरीदी के पूर्व टीम मैट मिसबाह उल हक को प्रमुख कोच और मुख्य चयनकर्ता की अहम जिम्मेदारियां दी गई हैं।

जब उनसे से यह पूछा गया कि क्या वह अपना कोचिंग करियर शुरू करना चाहेंगे तो 44 वर्षीय अफरीदी ने कहा इस समय में मैं सिर्फ क्रिकेट खेलने के बारे में सोच रहा हूं। उन्होंने कहा, 'मेरा मिजाज कोचिंग वाला नहीं है। मैं फिट हूं इसलिए मेरा पूरा ध्यान क्रिकेट खेलने पर है। लेकिन मैं 18-19 साल से छोटी उम्र के लड़कों को कोचिंग देने में रुचि ले सकता हूं।'

बता दें कि टी-10 टूर्नामेंट को आईसीसी से मंजूरी मिल गई है। अबू धाबी सरकार पांच अन्य साझेदारों के साथ इस ईवेंट को एंडोर्स करेगी। दोनों टीमों को 10-10 ओवर खेलने को मिलेंगे और मैच 90 मिनट में खत्म हो जाएगा।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD