सरफराज अहमद नहीं ये होंगे पाक क्रिकेट टीम के नए कप्तान

Diler Samachar

Diler Samachar

Author 2019-10-18 17:44:22

img

दिलेर समाचार, कमजोर श्रीलंका के हाथों टी-20 सीरीज में शर्मनाक हार का ठीकरा कप्तान सरफराज अहमद के सिर फूटा है. आखिरकार 32 साल के सरफराज को कप्तानी गंवानी पड़ी. इतना ही नहीं विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज को टेस्ट और टी-20 दोनों ही फॉर्मेट से बाहर कर दिया गया है. पिछली कुछ सीरीज के दौरान उनके ओवरऑल फॉर्म में गिरावट आई थी.

पाकिस्तान बोर्ड (पीसीबी) ने अजहर अली को 2019-20 सत्र में पाकिस्तान के विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप मैचों के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट टीम का कप्तान नियुक्त किया है, जबकि बाबर आजम को अगले साल के आईसीसी टी-20 विश्व कप (ऑस्ट्रेलिया-2020) तक टी-20 इंटरनेशनल टीम का कप्तान बनाया गया है.

पीसीबी ने वनडे के लिए कप्तान के नाम का खुलासा नहीं किया है. साथ ही अन्य फॉर्मेट के उपकप्तानों की भी घोषणा नहीं की है. बोर्ड ने कहा, 'उपकप्तानी पर निर्णय सीरीज के करीब आने पर किया जाएगा, जबकि वनडे के लिए कप्तान की घोषणा नीदरलैंड दौरे से पहले की जाएगी. पाकिस्तान की टीम 4-9 जुलाई 2020 तक नीदरलैंड्स खिलाफ एमस्टेलवीन में तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलेगी.'

कप्तानी को लेकर 34 साल के बल्लेबाज अजहर अली काफी उत्साहित हैं. उन्होंने कहा, ' पाकिस्तान की कप्तानी से बड़ा कोई सम्मान नहीं है.' 25 साल के बल्लेबाज बाबर आजम ने कहा, 'टी-20 इंटरनेशनल में नंबर-1 टीम का कप्तान चुना जाना मेरे करियर की आज तक की सबसे बड़ी बात है. मैं इस चुनौती के लिए तैयार हूं.'

32 साल के विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज ने मिस्बाह उल हक के संन्यास के बाद कपतानी संभाला थी. मिस्बाह अब पाकिस्तान की पुरुष टीम के मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता हैं. सरफराज ने 13 टेस्ट में टीम का नेतृत्व किया. सरफराज की कप्तानी में वह 4 मैच जीते और 8 मैच गंवाए. इससे पहले पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ियों- जहीर अब्बास, मोहसिन खान और शाहिद आफरीदी ने भी बोर्ड को सरफराज से कप्तानी छीन लेने की सलाह दी थी.

इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में पाकिस्तान टीम का प्रदर्शन बेहद खराब रहा था. तभी से सरफराज को हटाए जाने की बातें हवा में सिर-पैर मार रही थीं. बता दें कि श्रीलंका की कमजोर टीम (एक तरह से बी क्रिकेट टीम) के हाथों टी-20 मैचों की सीरीज में पाकिस्तान की शर्मनाक हार के बाद हंगामा मचा हुआ था. खिलाड़ियों से लेकर कोच मिस्बाह उल हक तक, सभी आलोचनाओं के केंद्र में रहे. श्रीलंका ने दुनिया की नंबर एक टी-20 टीम पाकिस्तान का तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 3-0 से सफाया कर दिया था.

इसके अलावा पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की विधानसभा में एक प्रस्ताव सौंपा गया था, जिसमें सरफराज अहमद को पाकिस्तान क्रिकेट टीम की कप्तानी से हटाने की मांग की गई थी. प्रस्ताव मुस्लिम लीग-नवाज के विधायक मलिक इकबाल जहीर ने सौंपा था. इसमें कहा गया था कि पंजाब विधानसभा श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज में पाकिस्तान के सफाए पर ‘गहरे अफसोस और गुस्से’ का इजहार करती है.

साथ ही कहा गया था कि टी-20 फॉर्मेट की नंबर-1 टीम (पाकिस्तान) अपने से कहीं कम रैंकिंग वाली टीम से हार गई. इस शिकस्त के कारण पाकिस्तानी कौम में गम और गुस्सा है. इस प्रस्ताव में मांग की गई थी कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख श्रीलंका के हाथों मिली इस एकतरफा हार की जांच कराएं. साथ ही अब सरफराज को क्रिकेट टीम के कप्तान पद से तुरंत हटाया जाना चाहिए.

पाकिस्तान के खिलाफ श्रीलंका की अब तक की यह पहली द्विपक्षीय टी-20 सीरीज जीत रही. टी-20 में शीर्ष रैंकिंग वाली पाकिस्तान की टीम ने 2019 में अब तक 7 मैच खेले हैं और उसे 6 में हार मिली है. पिछले साल पाकिस्तानी टीम ने 19 में से 17 मैच जीते थे, जबकि 2017 में उसे 10 में से 8 मैचों में जीत मिली थी.

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN