सरफराज से कप्‍तानी छीनने पर कराची में व‍िरोध प्रदर्शन

Palpal India

Palpal India

Author 2019-10-21 09:16:09

img

कराची. पूर्व क्रिकेटर्स द्वारा पाकिस्तानी टीम के कप्तान सरफराज को हटाने पर सवाल उठाए जाने के बाद करांची से विरोध प्रदर्शन की खबर आ रही है. क्रिकट्रैकर की खबर के अनुसार, सरफराज को कप्तानी से छीनने के विरोध में कराची में विरोध प्रदर्शन किए जाने की भी खबर है. सोशल मीडिया पर भी इस फैसले पर सवाल उठे थे.

सरफराज का टी20 कप्तान के रूप में जबरदस्त रिकॉर्ड है. 2016 टी20 वर्ल्ड कप के बाद से पाकिस्तानी टीम ने लगातार 11 सीरीज जीती थी. इसके इलावा उसने 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी भी अपने नाम की थी हालांकि सरफराज की बल्ले से नाकाम उनकी कप्तानी पर भारी पड़ गए. वे लंबे समय से बल्ले से नाकाम थे.

कप्तानी छोड़कर सम्मानजनक तरीके से जाने की सलाह दी थी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने बर्खास्त किए गए सरफराज अहमद को सभी तीनों प्रारूपों में कप्तानी छोड़कर सम्मानजनक तरीके से जाने की सलाह दी थी लेकिन इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने इस सुझाव को ठुकरा दिया. विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार सरफराज जब बोर्ड के सीईओ वसीम खान से शुक्रवार को मिले तो उन्हें पद छोड़ने को कहा गया.

वह 2017 से तीनों प्रारूपों में राष्ट्रीय टीम के कप्तान थे. इसी बीच उन्हें कप्तानी से हटाए जाने का काफी विरोध भी हो रहा है हालांकि कई लोगों ने इस कदम का समर्थन भी किया है. सरफराज ने कप्तानी छोड़ने से किया था मना’ पीसीबी सूत्र ने कहा, ‘सरफराज ने ऐसा करने से साफ तौर पर मना कर दिया और वसीम से कहा कि बोर्ड अगर चाहता है तो उन्हें बर्खास्त कर सकता है लेकिन वह स्वयं पद नहीं छोड़ेंगे.

सूत्र ने साथ ही कहा कि सरफराज ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पाकिस्तान की टी20 और टेस्ट टीम का भी हिस्सा नहीं होंगे क्योंकि कोच-मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह उल हक ने अब विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान को मौका देने का फैसला किया है. मोइन खान बोले- मिस्बाह को बहुत ज्यादा पावर दे दी वहीं पाकिस्तान के कई पूर्व क्रिकेटर्स ने सरफराज को हटाने पर सवाल उठाए हैं. इनमें पूर्व कप्तान व विकेटकीपर मोइन खान (Moeen Khan) और राशिद लतीफ (Rashid Latif) जैसे नाम शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि मिस्बाह और वकार यूनिस को कभी सरफराज पसंद नहीं थे. सरफराज ने पाकिस्तान को अपने नेतृत्व में लगातार 11 टी-20 सीरीज जिताई है और आप उनके खराब प्रदर्शन के कारण हटा नहीं सकते. कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह को बहुत ज्यादा पावर दे दी गई है. यह पाकिस्तान क्रिकेट के लिए अच्छा नहीं होगा.

बाबर का इस्तेमाल प्यादे के रूप में किया वहीं राशिद लतीफ (Rashid Latif) ने कहा कि सरफराज अहमद को हटाने के लिए बाबर आजम का इस्तेमाल प्यादे के रूप में किया गया. उन्होंने कहा, बाबर को कप्तान बनाने से पहले पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने कोई होमवर्क या रिसर्च नहीं की. वे सरफराज को हटाने के लिए बाबर का इस्तेमाल कर रहे हैं जो कि बाबर के करियर के लिए नुकसानदेह है अगर वह (बाबर) अच्छा खेलता है तो भी पाकिस्तान टीम को नुकसान झेलना पड़ सकता है.

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD