सिलेक्टरों ने परोसी चाय: प्रसाद का इंजीनियर को करारा जवाब

BHEL Daily News

BHEL Daily News

Author 2019-11-01 02:09:26

नई दिल्ली

imgचयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने पूर्व विकेटकीपर फारुख इंजीनियर की ‘तुच्छ बातों में उलझकर सुख लेने’ की आलोचना की। इंजीनियर ने टिप्पणी की थी कि चयनकर्ताओं में से एक ने भारतीय कप्तान विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा को विश्व कप के दौरान चाय परोसी थी। उन्होंने तल्ख पूर्व क्रिकेटर को कड़े लहजे में कहा कि 82 वर्षीय व्यक्ति से ऐसे कॉमेंट की उम्मीद नहीं थी। (यहां क्लिक कर पढ़ें- अनुष्का को लेकर क्या कहा था पूर्व क्रिकेटर फारुख इंजीनियर ने)

गुस्साए प्रसाद ने कहा, ‘मुझे उस व्यक्ति के लिए दुख होता है जो घटिया बातों में उलझकर परपीड़ा सुख लेता है, जिससे वह झूठे और तुच्छ आरोपों के माध्यम से भारतीय कप्तान की पत्नी और चयनकर्ताओं का अपमान और अनादर कर रहा है।’ प्रसाद ने कहा, ‘यह नहीं भूलना चाहिए कि इस चयन समिति को बीसीसीआई ने आम सालाना बैठक में उचित प्रक्रिया से नियुक्त किया है।’

उन्होंने कहा, ‘82 साल के व्यक्ति को परिपक्वता दिखानी चाहिए और भारतीय क्रिकेट के अपने दौर से आज तक हुई प्रगति का लुत्फ उठाना चाहिए।’ उल्लेखनीय है कि फारुख ने एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाले भारत के पांच सदस्यीय चयन पैनल की योग्यता का मजाक उड़ाया था, जिसमें सरनदीप सिंह, जतिन परांजपे, गगन खोड़ा और देवांग गांधी शामिल हैं।

अनुष्का ने झूठा करार दिया
विराट की ऐक्ट्रेस वाइफ अनुष्का ने इससे भी ज्यादा गुस्से में बयान जारी किया। उन्होंने कहा, ‘इस तरह के दुर्भावनापूर्ण झूठ का नया संस्करण यह है कि विश्व कप के मैचों के दौरान चयनकर्ताओं ने मुझे चाय परोसी थी। मैं विश्व कप के दौरान एक मैच में आयी थी और ‘फैमिली बाक्स’ में बैठी थी, चयनकर्ताओं वाले बाक्स में नहीं जैसा कि बताया जा रहा है लेकिन सच कहां मायने रखता है जब यह सहूलियत की बात हो तो।’

ये भी लिखा था अनुष्का ने
इंजीनियर के दावे पर उनका करारा जवाब था, ‘अगर आप चयन समिति और उनकी काबिलियत पर टिप्पणी करना चाहते हो तो कृपया ऐसा कीजिए, क्योंकि यह आपकी राय है लेकिन अपने दावे को साबित करने या फिर अपनी राय को सनसनीखेज बनाने के लिए मेरा नाम इसमें मत घसीटिए। मैं किसी को भी अपने नाम का इस्तेमाल इस तरह की बातों में नहीं करने दूंगी।’ अनुष्का ने बीते विवादों के बारे में भी इस बयान में बात कीं।

फारुख इंजीनियर ने क्या कहा था?
इंजीनियर ने कहा था, ‘टीम चयन की प्रक्रिया में विराट कोहली की बहुत अहम भूमिका है जो एक बहुत अच्छी बात है। लेकिन सिलेक्टर्स की क्या खूबी है? सभी सिलेक्टर्स ने मिलकर कुल 10-12 टेस्ट मैच खेले होंगे। मैंने इनमें से एक सिलेक्टर को पहचाना भी नहीं था। मैंने किसी से पूछा ‘यह कौन था जिसने भारत का ब्लेजर पहन रखा था, तो उसने बताया कि यह एक सिलेक्टर है। वे सिर्फ अनुष्का शर्मा (विराट की पत्नी) को चाय के कप दे रहे थे। मुझे लगता है कि दिलीप वेंगसरकर के कद के किसी इनसान चयन समिति में होना चाहिए।’

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD