सीईओ के तत्कालीन स्टेनो की शिकायत पर बनी जांच टीम

Nai Dunia

Nai Dunia

Author 2019-09-30 08:58:09

naidunia.jagran.com

img

जिले के बजाग जनपद अंतर्गत अलग-अलग ग्राम पंचायतों में पदस्थ रहे निलंबित सचिव उमेश साहू के विरुद्घ जांच के लिए जिला पंचायत सीईओ ने तीन सदस्यीय जांच टीम बनाई है। जिला पंचायत सीईओ के तत्कालीन स्टेनो राहुल शर्मा की शिकायत पर जांच टीम बनी है। निलंबित पंचायत सचिव पर राहुल शर्मा ने आरोप लगाया था कि उसके द्वारा शासकीय सेवा संपादन के दौरान गलत ढंग से कार्य करने के लिए दबाव बनाया जाकर धमकाते हुए सरकारी कार्य में व्यवधान उत्पन्न किया गया है। तत्कालीन स्टेनो राहुल शर्मा द्वारा संबंधित निलंबित सचिव के विरुद्घ चार सितंबर को सीईओ सहित कलेक्टर से भी शिकायत की गई थी। इस मामले में आरोप प्रत्यारोप का दौर भी चल रहा है।

अनियमितता की भी जांच करेगी टीम

जिला पंचायत सीईओ ने जांच टीम में जनपद पंचायत शहपुरा सीईओ केके रायकवार, खंड पंचायत अधिकारी जनपद अमरपुर विनय पटेल और बजाग जनपद में पदस्थ उपयंत्री अमित सेंगर को रखा है। तीन सदस्यीय जांच टीम ग्राम पंचायत सरवाही, अंगई और चांडा में सचिव पद पर पदस्थ रहने के दौरान निलंबित सचिव उमेश साहू के कार्यकाल में हुए पंच परमेश्वर के कार्यों में शासकीय राशि का गबन, शासकीय दस्तावेज को छिपाने व अनियमितता के आरोप की भी जांच करेगी। सीईओ द्वारा इन पूरे आरोपों की जांच कर सात दिन में प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए गए हैं। पंचायत सचिव द्वारा यद्यपि आरोपों का खंडन किया गया।

..............

तीन सदस्यीय जांच टीम बनने का पत्र मुझे दो दिन पहले ही मिला है। जाकर इस पूरे मामले की जांच की जाएगी। जो भी मामला सामने आएगा। उस आधार पर आगे की कार्रवाई का प्रतिवेदन अधिकारी को सौंपा जाएगा।

-केके रायकवार, सीईओ जनपद शहपुरा।

Read Source

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD