सूरत के मैदान में उतरेगे मेरठ के धुरंदर

LiveHindustan

LiveHindustan

Author 2019-09-29 04:37:45

img

सूरत के मैदान में मेरठ के क्रिकेटरों की धाक दिखाई देगी। शहर के छह क्रिकेटरों का चयन सूरत में होने वाली वन-डे वीनू मांकड़ ट्रॉफी के लिए हुआ है। जो सूरत में पांच अक्तूबर से शुरू हो रही है। इसमें मेरठ के गेंदबाज और बल्लेबाज खुद की पहचान बनाएंगे। इससे पहले भी मेरठ के क्रिकेटरों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खुद की अलग पहचान बनाई है। इन खिलाड़ियों में कोई किसान, ठेकेदार, तो कोई वकील और बिजनेश मैन का बेटा है। जिन्होंने अपने करियर में तमाम रिकॉर्ड हासिल किए हैं। मेरठ के खिलाड़ियों का सलेक्सन होने पर शहरवासियों में खुशी की लहर है। उम्मीद है कि वह ट्रॉफी में बेहतर प्रदर्शन कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खुद की पहचान बनाएंगे।

पूर्णांक ने इग्लैंड के खिलाफ झटके पांच विकेट

सोमदत्त विहार निवासी एडावाकेट अरुण कुमार त्यागी के बेटे पूर्णांक त्यागी की अगर बात करें तो उसने अपने क्रिकेट करियर में तमाम रिकॉर्ड हासिल किए हैं। फार्स्ट बॉलिंग ऑलराउंडर पूर्णांक ने कुछ महीन पहले इग्लैंड टूर पर 10 ओवर में 32 रन देकर पांच विकेट अपने नाम किए थे। वहीं, जनवरी में हुए कूच बिहार ट्रॉफी मैचों में 22 ओवर में 62 रन देकर सात विकेट झटके। इसके अलावा पिछले साल कूच बिहार ट्रॉफी मैचों में पूर्णांक ने सर्वाधिक 350 रन बनाए और 35 विकेट अपने खाते में जोड़े।

समीर के बल्ले से बरसते है रन

मेरठ के धुरंधर बल्लेबाज समीर रिजवी की अगर बात करें तो उसने क्रिकेट में खुद की अलग पहचान बनाई है। वह अंडर-19 टीम इंडिया में बेहतर परफोर्मेंस दे चुका है। साथ ही बोर्ड ट्रॉफी मैचों में भी अपने बल्ले से रन बरसा रहा है। अब यह खिलाड़ी सूरत के मैदान में प्रतिद्वंद्वी टीमों के गेंदबाजों को धूल चटाने को तैयार है।

सूरत के मैदान में गेंदबाजों को धूल चटाएगा हर्ष

किसान राकेश त्यागी के बेटे हर्ष त्यागी भी किसी से कम नहीं है। ओपनर बल्लेबाज हर्ष ने तमाम रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं। वैभव ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया। हाल ही में भामाशाह पार्क में हुए मास्टर वैभव मैमोरियल क्रिकेट ट्रॉफी में यूपीसीए की टीम से प्रतिनिधित्व किया। साथ ही बेस्ट बैट्समैन का खिताब भी हासिल किया। खिलाड़ी वैभव ट्रॉफी मैचों में नाबाद रहते हुए 138 रन बना चुका है। पिछले साल वीनू मांकड़ ट्रॉफी के कुछ मैचों में 75 रन बनाए थे।

ऋतुराज को पहली बार मिला वीनू मांकड़ में मौका

गंगानगर बी ब्लॉक अमित शर्मा का फाइनेंस का काम है। उनका बेटा ऋतुराज भामाशाह पार्क के मैदान में प्रैक्टिस करता है। शुरुआत में इस खिलाड़ी ने गंगानगर के ही दधीचि एकेडमी में क्रिकेट की शुरुआत की। ओपनर बेट्समैन ने जोनल मैचों में मुरादाबाद के खिलाफ नाबाद रहते हुए 142 रन बनाए थे। छह साल के करियर में वीनू मांकड़ ट्रॉफी खेलने का मौका मिला। इसमें वह अपने आपको साबित करेगा।

स्पिनर ऋषभ की गेंदबाजी का चलेगा जादू

रजबन बड़ा बाजार निवासी बिजनेश मैन मनोज बंसल का बेटा ऋषभ बंसल अपनी स्पिन का जादू चलाने को तैयार है। इस खिलाड़ी ने तमाम रिकॉर्ड बनाए हैं। अंडर-14 राज सिंह डूगरपुर ट्रॉफी में सर्वाधिक पांच विकेट बाराबंकी एसोसिएशन की टीम के खिलाफ लिए। राइट आर्म स्पिनर ऋषभ अब सूरत में जलवा बिखेरने को तैयार हैं।

गेंदबाज शुभाशीष की गेंद के आगे नहीं टिक पाता कोई

हस्तिनापुर के रहने वाले ठेकदार का बेटा सुभाशीष क्रिकेट में खूब नाम रोशन कर रहा है। शुभाशीष की अगर बात करें तो उसने 2014-15 में अंडर-14 मैचों में छत्तीसगढ, विदर्भ, राजस्थान के खिलाफ छह-छह विकेट हासिल किए हैं। इन मैचों में 20 विकेट लेकर खुद की अलग पहचान बनाई। अब यह खिलाड़ी सूरत के मैदान में बल्लेबाजों को धूल चटाने को तैयार है।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD