सौहार्द की मिसाल, क्रिकेट खेल में दिखा भाईचारा

Patrika

Patrika

Author 2019-11-10 14:51:21

Patrika

img

खरगोन.
खरगोन शहर की खूबसूरती है यहां की गंगा.जमुनी तहजीब। अनेकता में एकता और आपसी भाईचारा। हालांकि, आजकल इसी खूबसूरती को खत्म करने में भी कुछ लोग लगे रहते हैं, लेकिन नवग्रह की इस नगरी में ऐसी बहुत सी मिसालें हैं जो उम्मीद जगाती हैं और उन्हें देखकर ये लगता है कि भाईचारे का यह ताना-बाना इतनी आसानी से कोई यूं ही नहीं तोड़ सकता।
शनिवार को अयोध्या मामले को लेकर फैसला आया। इस घड़ी में हर शख्स, हर शहर सहमा-सहमा भी रहा। आशंकाएं भी उभरी और कई तर्क भी। लेकिन मतभेदों की इस उधेड़बून के बीच सुबह ७ बजे नवग्रह मेला मैदान की तस्वीरें कुछ ओर ही बयां कर रही थी। यहां आपसी भाईचारे और एकजुटता की मिसाल पेश करने के लिए हिंन्दू और मुस्लिम समाज के ३० से ४० लोग एकत्रित हुए। इस समूह में उम्रदराज शौकत शाह, कादर बैग, मोहसीन खान, रऊफ शाह, अकरीम शाह थे तो युवा दीपक चौरे, मनोज वर्मा, राहुल पाटीदार, कैलाश पाटीदार, प्रदीप तायड़े भी। अवसर था कौमी एकता मैत्री क्रिकेट मैच का। सूखपुरी क्षेत्र के इन रहवासियों ने यह संकल्प लिया कि अयोध्या मामले में फैसला चाहे जो जाए हम मतभेदों के साथ मनभेद नहीं होने देंगे। इसी संकल्प के साथ मैदान पर उतरे इन सजग प्रहरियों ने गंगा-जमुनी तहजीब का परिचय दिया। इस दौरान फिरोज बागबान, शाहरुख मिर्जा, मोहसीन खान, अकलिम शाह, दीपक, दिनेश, गोलू आदि मौजूद थे।

दीपक की बॉल पर शौकत ने लगाया
यह मैत्री मैच सुबह ७ बजे से दोपहर १२ बजे तक चला। हंसी ठहाकों के बीच देखने वालों ने भी खूब आनंद लिया। बॉलिंग कर रहे वार्ड क्रमांक एक के पार्षद दीपक चौरे की एक शॉटपीच बॉल पर ६५ वर्षीय शौकत शाह ने शानदार हुक शॉट लगाया तो देखने वाले खुशी से झूम उठे। मैत्री मैच की यह कौमी एकता तमाम बुराइयों को कोसों पीछे छोड़कर उत्साह, उमंग और एकजुटता के सागर में घंटों गौते लगाती रही।

हमारे प्रेम पर कोई आंच नहीं आएगी
क्रिकेट खेल रहे मुस्लिम भाइयों ने कहा- हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का दिल से स्वागत करते हैं। यह संकल्प भी देते हैं कि हमारा प्रेम, भाईचारा आगे भी ऐसे ही कायम रहेगा। मैच खेलने आए ७० वर्षीय एक बुजुर्ग ने इस मौके पर कहा- या रब वतन में यूं ही वफा का चलन रहे, मेहफूस हर बला से हमारा वतन रहे, दिनरात अपने दिल में यहीं एक लगन रहे, दुनिया में सबसे आगे हमारा वतन रहे।

एकजुटता ही हमारी पहचान है
वार्ड पार्षद दीपक चौरे ने कहा- यह मैत्री मैच दर्शाता है कि हमारा शहर अमन-शांति और सद्भावना को चाहने वाला है। सुबह ही एकजुट होकर यह चर्चा चली कि फैसला चाहे जो भी आए, हम दिलों में खटास नहीं आने देंगे। इसके लिए यह मैच रखा। फैसले के बाद भी मैच दोपहर करीब १२ बजे तक चला। इसके बाद सभी ने एक दूसरे को गले लगाया खुशी-खुशी घर गए।

READ SOURCE

READ SOURCE

⚡️Fastest Live Score

Never miss any exciting cricket moment

OPEN