… वादा करो कि तुम कभी ऊपर उठना नहीं भूलोगे

Dainik Tribune Online

Dainik Tribune Online

Author 2019-11-06 11:27:01

img

भूटान में पत्नी अनुष्का संग विराट ने फोटो की शेयर।

नयी दिल्ली, 5 नवंबर (एजेंसी)
भारतीय कप्तान और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने अपने 31वें जन्मदिन के मौके पर अतीत को याद किया और उस समय 15 साल के विराट को पत्र लिखकर पिता के गर्मजोशी से गले लगाने को उनके जूता दिलाने से इनकार करने पर अहमियत देकर दिवंगत पिता को ढेर सारा प्यार करने को कहा। कोहली ने साथ ही पश्चिमी दिल्ली में रहने वाले 15 साल के बच्चे को उन ‘परांठों’ को सहेजने को कहा जो आगामी वर्षों में उसकी पहुंच से दूर होने वाले हैं।
मंगलवार को 31 बरस का होने पर कोहली के दिमाग में कई विचार आए और उनमें से कुछ विचारों को उन्होंने साझा किया। इस स्टार बल्लेबाज ने उस समय 15 बरस के रहे विराट कोहली को पत्र लिखा और इस दौरान अपने दिवंगत पिता प्रेम कोहली को याद किया। कोहली ने सोशल मीडिया पर साझा किए पत्र में लिखा, ‘मुझे पता है कि तुम उन जूतों के बारे में सोच रहे जो पिताजी ने आज तुम्हें नहीं दिए।’उन्होंने लिखा, ‘पिताजी से कहो कि तुम उनसे प्यार करते हो। काफी ज्यादा। आज ही उनसे बोलो। कल भी कहो। उन्हें बार बार कहो।’
कोहली ने साथ ही लिखा कि उन्हें जीवन में कभी न कभी विफलताओं का सामना करना होगा। उन्होंने लिखा, ‘तुम विफल हो जाओगे। सभी होते हैं। स्वयं से वादा करो कि तुम कभी ऊपर उठना नहीं भूलोगे। और अगर पहले प्रयास में तुम ऐसा नहीं कर पाओ तो दोबारा प्रयास करो।’ कोहली ने लिखा, ‘मैं तुम्हें यह कहना चाहता हूं कि जीवन ने तुम्हारे लिए बड़ी चीजें रखी हैं विराट …।’
पिता का अंतिम संस्कार कर उतरे थे मैदान पर
प्रेम कोहली का 54 साल की उम्र में मस्तिष्क आघात से निधन हो गया और दुनिया का शीर्ष बल्लेबाज बन चुका उनका बेटा तब सिर्फ 18 साल का था। कोहली ने अपने पिता के अंतिम संस्कार के एक दिन बाद मैदान पर उतरते हुए दिल्ली की ओर से रणजी ट्राफी में 90 के आसपास रन बनाए थे और टीम को हार से बचाया था। अब बेहद सफल क्रिकेटर बन चुके कोहली वनडे क्रिकेट में नंबर एक जबकि टेस्ट क्रिकेट में दूसरी रैंकिंग वाले बल्लेबाज हैं।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD