9 साल बाद बना था सबसे बड़ा रिकार्ड, लेकिन 6 महीने में ही टूट गया

Rochak Khabare

Rochak Khabare

Author 2019-10-21 10:32:00

img

टेस्ट क्रिकेट में वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम अपने आप को साबित करने के लिए आज भले ही लाख प्रयास कर रही हो लेकिन एक समय था जब क्रिकेट पर वेस्टइंडीज का राज था। जैसे-जैसे समय बीता टेस्ट क्रिकेट की बादशाहत भी वेस्टइंडीज के हाथों से फिसलकर ऑस्ट्रेलिया के पास आ गई। यही कारण रहा कि वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर ब्रायन लारा के जिस रिकॉर्ड को कोई नहीं तोड़ सका उसे आज से 16 साल पहले ऑस्ट्रेलिया के ही एक महान बल्लेबाज ने तोड़ा था।

आपको बता दें कि ब्रायन लारा के नाम एक समय टेस्ट क्रिकेट की सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड था। 1994 में इंग्लैंड के खिलाफ 375 रनों की बेमिसाल पारी के साथ यह रिकॉर्ड अपने नाम किया था। लारा के इस रिकॉर्ड को 9 साल बाद 2003 में ऑस्ट्रेलिया के बेहतरीन सलामी बल्लेबाज मेथ्यू हेडन ने तोड़ा था। उन्होंने इस रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 380 रनों की शानदार पारी खेली थी।

loading...

जिम्बॉब्वे के खिलाफ पर्थ में खेले गए मुकाबले में मैथ्यू हेडन ने लारा के इस असंभव से लगने वाले रिकॉर्ड को तोड़ा था। 437 गेंदों का सामना करते हुए हेडन ने अपनी पारी में कुल 38 चौके और 11 शानदार छक्के जड़े थे।

हेडन ने इस पारी में 86.95 की स्ट्राइक रेट से रन बरसाए थे। जिसकी बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच को एक इनिंग और 175 रनों के अंतर से जीता था। इस मैच में टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट ने 84 गेंदों में शतक लगाया था लेकिन उनकी पारी हेडन के आगे चर्चा में नहीं रह पाई।

6 महीने बाद टूट गया था रिकॉर्ड

एक पारी में सर्वोच्च स्कोर का रिकॉर्ड हेडन के नाम महज 6 महीने ही रह पाया। 2004 में लारा ने एक बार फिर यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था। इस बार उन्होंने 380 को पीछे छोड़ते हुए नाबाद 400 रनों की अविश्वसनीय पारी खेली थी। उन्होंने यह पारी इंग्लैंड के खिलाफ ही खेली थी।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD