India vs Bangladesh: 5 रोमांचक मुकाबले जो लंबे समय तक रहेंगे याद

Navbharat Times

Navbharat Times

Author 2019-10-29 14:42:00

img

नई दिल्ली
नवंबर की तीन तारीख से बांग्लादेश के भारत दौरे की शुरुआत हो रही है। बांग्लादेश टीम पहले 3 टी20 इंटरनैशनल मैचों की सीरीज खेलेगी। इस प्रारूप में पूरा पलड़ा भारत की ओर झुका हुआ है। दोनों टीमों के बीच 8 टी20 इंटरनैशनल मुकाबले खेले गए हैं और हर बार टीम इंडिया ने ही जीत हासिल की है। आइए इस सीरीज से पहले देखते हैं दोनों टीमों के बीच हुए 5 यादगार मुकाबले (वनडे और टी20)

2004 ढाका
भारत को पहली बार बांग्लादेश से हार मिली। बांग्लादेश ने भारत के सामने जीत के लिए 229 रनों का लक्ष्य रखा। उसके गेंदबाजों ने भारतीय टीम पर लगातार दबाव बनाए रखा और नियमित अंतराल पर विकेट लिए। भारत ने इस मैच में सचिन तेंडुलकर और राहुल द्रविड़ को आराम देने का फैसला किया। यह प्रयोग हालांकि कारगर साबित नहीं हुआ और भारत को 16 रनों से हार का सामना करना पड़ा। मशरफे मुतर्जा को मैन ऑफ द मैच चुना गया। उन्होंने 39 गेंदों पर 31 रनों की नाबाद पारी खेली और साथ ही 36 रन देकर दो विकेट भी लिए।

2007 पोर्ट ऑफ स्पेन
भारत के लिए आईसीसी वर्ल्ड कप की इससे खराब शुरुआत क्या हो सकती थी। एक गीली विकेट पर बैटिंग करने का भारत का फैसला गलत साबित हुआ और टीम सिर्फ 191 रनों पर सिमट गई। बांग्लादेश की ओर से मुशफिकुर रहीम, तमीम इकबाल और शाकिब अल हसन ने हाफ सेंचुरी लगाई। नतीजा बांग्लादेश ने आसानी से मैच जीत लिया।

2015 मेलबर्न, ऑस्ट्रेलिया
भारत ने बांग्लादेश को 109 रनों से हराते हुए आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई। रोहित शर्मा जिस बॉल पर कैच हुए उसे नो-बॉल करार दिया गया। इस पर हालांकि बहुत विवाद भी हुआ। रोहित ने इस मौके का फायदा उठाते हुए शानदार शतक जड़ा और भारत ने 302 का स्कोर खड़ा किया। इसके बाद भारतीय तेज गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया और बांग्लादेश को 193 रनों पर समेट दिया।

2016, बेंगलुरु (T20I)
यह दोनों टीमों के बीच एक और कड़ा मुकाबला था। बांग्लादेश काफी मजबूत नजर आ रही थी। ऐसा लग रहा था कि आईसीसी वर्ल्ड टी20 के इस मुकाबले में वह भारत के खिलाफ जीत हासिल कर लेगी। लेकिन आखिरी ओवर में खेल नाटकीय अंदाज से बदला। बांग्लादेश को आखिरी ओवर में जीत के लिए 11 रन बनाने थे। ऐसे में मुशफिकुर रहीम और महमदुल्लाह ने पहली तीन गेंदों पर 9 रन बना लिए। बांग्लादेश जीत के मुहाने पर था लेकिन उसके बल्लेबाजों के बीच अफरातरफी फैल गई। सभी बड़ा शॉट खेलकर मैच समाप्त करने की कोशिश में जुट गए। भारत ने यह मुकाबला एक रन से जीता। धोनी ने आखिरी बल्लेबाज को दौड़कर रन आउट किया।

2018, कोलंबो (T20I)
इस निदाहास ट्रोफी के लिए कप्तान विराट कोहली को आराम दिया गया था। रोहित शर्मा की कम अनुभव वाली टीम को इसके बावजूद इस टी20 ट्रोफी में फेवरिट माना जा रहा था। टी20 इंटरनैशनल के फाइनल में रोमांच चरम पर था। बांग्लादेश ने 168 रन बनाए। भारत की ओर से युजवेंद्र चहल और वॉशिंगटन सुंदर ने प्रभावी खेल दिखाया। भारत को जीत के लिए 12 गेंदों पर 34 रन चाहिए थे। लग रहा कि बांग्लादेश इस मुकाबले को जीत लेगा। लेकिन यहां बल्लेबाजी करने आए दिनेश कार्तिक। उन्होंने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करनी शुरू कर दी। आखिरी गेंद पर भारत को जीत के लिए 5 रनों की जरूरत थी। कार्तिक ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर भारत को अविश्वसनीय जीत दिला दी। कार्तिक ने 8 गेंदों पर 29 रनों की पारी खेली। यह एक ऐसी जीत थी जिसे भारतीय प्रशंसक लंबे समय तक याद रखेंगे। इस जीत के साथ ही भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ टी20 इंटरनैशनल में अपना विजयी अभियान जारी रखा।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD