Ind vs SA 3rd Test: भारत तीसरे टेस्ट में मजबूत स्थिति में, द. अफ्रीका को लगे दो झटके

Nai Dunia

Nai Dunia

Author 2019-10-20 19:30:00

naidunia.jagran.com

img

रांची। India vs South Africa 3rd Test: दक्षिण अफ्रीका को रविवार को भारत के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच के दूसरे दिन पहली पारी में दूसरा झटका लगा जब क्विंटन डी कॉक 4 रन बनाकर आउट हो गए। द. अफ्रीका ने खराब रोशनी के कारण दूसरे दिन का खेल जल्दी खत्म किए जाने के वक्त तक 5 ओवरों में 2 विकेट पर 9 रन बना लिए थे। कप्तान फॉफ डु प्लेसिस 1 और जुबैर हमजा बगैर खाता खोले क्रीज पर हैं। द. अफ्रीिका अभी भारत की पहली पारी के स्कोर से 488 रन पीछे है जबकि उसके 8 विकेट शेष हैं।

इससे पहले भारत ने अपनी पहली पारी 9 विकेट पर 497 रन बनाकर घोषित की। रोहित शर्मा टेस्ट करियर का पहला दोहरा शतक (212) और अजिंक्य रहाणे 11वां टेस्ट शतक (115) बनाकर आउट हुए। इनके बीच चौथे विकेट के लिए 267 रनों की भागीदारी हुई। पहला टेस्ट खेल रहे जॉर्ज लिंडे ने सर्वाधिक 4 विकेट लिए।

मोहम्मद शमी ने दक्षिण अफ्रीका को पहले ही ओवर में झटका दिया जब उन्होंने डीन एल्गर को विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों झिलवाया। एल्गर खाता भी नहीं खोल पाए। अभी मेहमान टीम इस झटके से उबरी भी नहीं थी कि उमेश यादव ने बाउंसर पर क्विंटन डी कॉक को विकेटकीपर साहा के हाथों कैच कराया। डी कॉक को ओपनिंग में भेजने का फैसला काम नहीं आया और द. अफ्रीका 8 रनों पर 2 विकेट खोकर संघर्षरत नजर आया।

भारत ने दूसरे दिन पहली पारी में 224/3 से आगे खेलना शुरू किया। जैसे ही स्कोर 239 तक पहुंचा, इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए दोहरी शतकीय भागीदारी पूरी कर ली। इसके बाद रहाणे ने एनरिच नोर्त्जे की गेंद पर 1 रन लेकर शतक पूरा किया। वे 169 गेंदों में 14 चौकों और 1 छक्के की मदद से शतक तक पहुंचे। उनका यह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरा टेस्ट शतक है। रोहित शर्मा ने 199 गेंदों में 21 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 150 रन पूरे किए। रोहित और रहाणे की खतरनाक साबित होती साझेदारी को जॉर्ज लिंडे ने तोड़ा। उन्होंने रहाणे का विकेटकीपर हेनरिक क्लासेन के हाथों झिलवाया, यह उनका टेस्ट क्रिकेट में पहला विकेट है। रहाणे ने 192 गेंदों पर 19 चौकों और 1 छक्कों की शतक ले 115 रन बनाए। उन्होंने चौथे विकेट के लिए रोहित के साथ 267 रनों की साझेदारी की।

रोहित ने डेन पिट की गेंद पर चौका लगाकर अपने स्कोर को 179 तक पहुंचाया और यह उनका टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक स्कोर हो गया। इससे पहले उनका सर्वाधिक स्कोर 177 था जो उन्होंने नवंबर 2013 में कोलकाता में वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाया था। रोहित ने लुंगी नजीडी की गेंद पर छक्का लगाकर दोहरा शतक पूरा किया। वे 249 गेंदों में 28 चौकों और 5 छक्कों की मदद से दोहरे शतक तक पहुंचे। रोहित 212 रन बनाकर कगिसो रबाडा की गेंद पर लुंगी नजीडी को कैच थमा बैठे। उन्होंने 255 गेंदों में 28 चौके और 6 छक्के लगाए। रोहित के आउट होने के बाद जडेजा और साहा ने छठे विकेट के लिए 47 रनों की भागीदारी की। साहा (24) को जॉर्ज लिंडे ने बोल्ड किया। जडेजा ने लिंडे की गेंद पर 2 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। वे लिंडे की गेंद पर विकेटकीपर क्लासेन द्वारा लपके गए। उन्होंने 51 रन बनाए। रविचंद्रन अश्विन 14 रन बनाकर डेन पिट की गेंद पर विकेटकीपर क्लासेन द्वारा स्टंप किए गए। उमेश यादव ने इसके बाद छोटी किंतु आक्रामक पारी खेली। वे 10 गेंदों में 5 छक्कों की मदद से 31 रन बनाकर लिंडे की गेंद पर विकेटकीपर क्लासेन को कैच दे बैठे। टेस्ट डेब्यू करने वाले लिंडे ने 133 रनों पर 4 विकेट लिए जबकि कगिसो रबाडा को 3 विकेट मिले।

इससे पहले मेहमान गेंदबाजों ने इस मैच में शुरुआत तो शानदार ढंग से की थी लेकिन वे उस क्रम को बनाए नहीं रख पाए। कगिसो रबाडा ने भारत को शुरुआती दो झटके दिए थे। मयंक अग्रवाल 10 रन बनाकर रबाडा की गेंद पर तीसरी स्लिप में डीन एल्गर के हाथों लपके गए थे। इसके बाद रबाडा ने तो चेतेश्वर पुजारा को खाता भी नहीं खोलने दिया था। एनरिच नोर्त्जे ने टीम को महत्वपूर्ण सफलता दिलाई थी जब उन्होंने विराट कोहली को एलबीडब्ल्यू किया था। विराट 12 रन ही बना पाए थे।

Read Source

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD