INDvsSA, 2nd Test: पुणे टेस्ट के लिए कुछ ऐसा हो सकता है भारत का प्लेइंगXI

LiveHindustan

LiveHindustan

Author 2019-10-09 01:15:04

img

India vs South Africa, 2nd Test: भारत और दक्षिम अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट मैच 10 अक्टूबर से पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला जाएगा। 3 मैचों की सीरीज का पहला मैच भारत ने विशाखापट्टनम में 203 रनों के बड़े अंतर से जीता। अब दूसरे मैच को जीतकर भारत की कोशिश टेस्ट सीरीज में अजेय बढ़त बनाने की होगी। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की टीम पुणे टेस्ट को जीतकर बराबरी करना चाहेगी। पहले टेस्ट मैच में बल्लेबाजी में रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा ने धमाल मचाया तो वहीं गेंदबाजी में मोहम्मद शमी, रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन ने कहर बरपाया। 

भारत आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का लगातार तीसरा टेस्ट मैच जीतकर 160 अंकों के साथ प्वॉइंट टेबल में टॉप पर बना हुआ है। आइए जानते हैं पुणे में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट मैच में भारत का प्लेइंग इलेवन कैसा हो सकता है: 

मयंक अग्रवालः ओपनर मयंक अग्रवाल ने पहली पारी में शानदार 215 रन बनाकर यह साबित कर दिया कि उनके भीतर लंबी पारी खेलने की अद्भुत क्षमता है। बेशक वह दूसरी पारी में केवल सात रन पर आउट हो गए, लेकिन ओपनर के लिए उनकी जगह आने वाले समय तक तय है। 

रोहित शर्माः लिमिटेड क्रिकेट के ओपनर आक्रामक बल्लेबाज ने पहली बार टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग की और रिकॉर्डों की झड़ी लगा दी। उन्होने पहली पारी में 176 और दूसरी में 127 रन बनाए। इसके साथ ही उन्होंने अपने टेस्ट क्रिकेट का नए सिरे से शानदार आगाज किया। अब कुछ टेस्ट में उनकी जगह पक्की मानी जा रही है। 

चेतेश्वर पुजाराः पुजारा भारत के तकनीकी रूप से सबसे मजबूत बल्लेबाज माने जाते हैँ। पहली पारी में छह रन पर आउट होने वाले पुजारा ने दूसरी पारी में शानदार 81रन बनाए। इसलिए नंबर तीन पर वही बल्लेबाजी करते दिखाई देंगे। 

विराट कोहलीः कोहली के लिए पहले टेस्ट में जीत शानदार रही है। हालांकि उन्होंने पहली पारी में 20 और दूसरी में 31 रन बनाए। लेकिन अब उनका निजी स्कोर बहुत ज्यादा अहमियत नहीं रखता। दूसरे टेस्ट में भी उनकी नजर जीत पर लगी होगी। वह चाहेंगे कि भारत सीरीज में अपराजेय बढ़त हासिल कर ले।

अजिंक्य रहाणेः टेस्ट टीम के उप कप्तान के लिए निजी रूप से पहला टेस्ट कोई खास नहीं रहा। वह दोनों ही पारियों में बड़ा स्कोर नहीं कर पाए। लेकिन इसके बावजूद उनका अगले टेस्ट में खेलना तय है। रहाणे दूसरे टेस्ट में निश्चित रूप से बड़ा स्कोर करना चाहेंगे।  

हनुमा विहारीः विहारी मध्यक्रम के मजबूत स्तंभ हैं। हालांकि वह भी पहले टेस्ट में कोई बड़ा स्कोर नहीं कर पाए। लेकिन वेस्टइंडीज के खिलाफ मिली शानदार सफलता ने टीम प्रबंधन का विश्वास जीतने में काफी मदद की है। विराट भी उनपर काफी भरोसा करते हैं। इसलिए उनका प्लेइंग इलेवन में होना तय है।

ऋद्धिमान साहाः साहा को पहले टेस्ट में ऋषभ पंत को बाहर बिठाकर मौका दिया गया था। बेशक साहा कोई बड़ा स्कोर पहले टेस्ट में नहीं कर पाए। लेकिन दूसरे टेस्ट में उन्हें एक और मौका मिलना तय है। साहा भी चाहेंगे कि वह दूसरे टेस्ट में बल्लेबाज के रूप में अपनी उपयोगिता साबित कर सकेँ। 

रविंद्र जेडजाः जडेजा ने पिछले कुछ समय में ऑलराउंडर के रूप में खासा विश्वास अर्जित किया है। पहले टेस्ट में उन्होंन दोनों पारियों में ठीकठाक बल्लेबाज की और पहली पारी में दो तथा दूसरी में 4 विकेट लिए। कोहली उनपर ही भरोसा करना चाहेंगे। 

रविचंद्रन अश्विनः अश्विन ने पहले टेस्ट में यह साबित कर दिया कि वह टेस्ट क्रिकेट से सबसे उम्दा गेंदबाज हैं। उन्होंने पहली पारी में दक्षिण अफ्रीका के सात विकेट लिए थे। उन्होने प्लेइंग इलेवन में न रखने की पहले भी काफी आलोचना हो चुकी है। इसलिए दूसरे टेस्ट में उनका खेलना तय है। 

इशांत शर्माः इशांत जसप्रीत बुमराह की अनुपस्थिति में भारत के मुख्य गेंदबाज हैं। पहले टेस्ट में उन्हें केवल एक विकेट मिली, लेकिन वह बल्लेबाजों पर दबाव बनाए रहे। दूसरे टेस्ट में वह जरूर विकेट लेना चाहेंगे। 

मोहम्मद शमीः मोहम्मद शमी ने पहले टेस्ट की दूसरी पारी में तूफानी गेंदबाजी की और दक्षिण अफ्रीका की कमर तोड़ दी। उन्होंने पांच विकेट लिए। मैच के बाद कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा ने उनकी जमकर तारीफ की। उनका खेलना भी तय है।

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD