SSC CGL 2019 : खेल संबंधी पुरस्कारों का सामान्य ज्ञान

Talentedindia

Talentedindia

Author 2019-11-08 11:00:13

img

# राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार – किसी खिलाड़ी द्वारा पुरस्कार दिए जाने वाले वर्ष से पूर्व चार वर्षों में खेल के क्षेत्र में शानदार और सबसे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए दिया जाता है ।     यह 1991-92 से शुरू हुआ। इसमें 7.5 लाख रुपए दिये जाते हैं।

# द्रोणाचार्य पुरस्कार – उन खेल प्रशिक्षकों के लिए जिन्होंने खिलाड़ियों या टीमों को सफलतापूर्वक प्रशिक्षित किया है और उन्हें अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त करने में सक्षम बनाया है । इसकी शुरुआत 1985 से हुई इसमें  5 लाख रुपए का इनाम दिया जाता है।

# ध्यानचंद पुरस्कार – उन खिलाड़ियों के लिए जिन्होंने अपने प्रदर्शन से खेलों में योगदान दिया है और सक्रिय खेल करियर से रिटायरमेंट के बाद भी खेल को बढ़ावा देने में योगदान देना जारी रखा है । इसकी शुरुआत 2002   से हुई। इसमें रु. 5 लाख इनाम दिया जाता है।

# तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड – जल, थल और वायु में एडवेंचर खेलों में विशिष्ट उपलब्धि हासिल करने वालों को 3श्रेणीयों में तथा 1 पुरस्कार लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए दिया जाता है ।या 1993 से शूरु हुआ, इसमें 5 लाख रुपए दिये जाये हैं।

# अर्जुन पुरस्कार – अर्जुन पुरस्कार उन खिलाडियों को दिए जाते हैं जिन्होने पिछले चार वर्षों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर असाधारण प्रदर्शन किया हो तथा नेतृत्व, खेल कौशल और अनुशासन की भावना भी प्रदर्शित की हो । साधारणत: एक वर्ष में 15 से अधिक नही दिए जाते है, प्रत्येक खेल के लिए एक और शारीरिक रूप से विकलांगों के खेलों के लिए कम से कम एक ।    इसकी शुरुआत 1961 से हुई। इसमें रू. 5 लाख इनाम दिया जाता है।

# राष्ट्रीय खेल प्रत्साहन पुरस्कार – 4 श्रेणियां (क) नवोदित / युवा प्रतिभाओं की पहचान और समर्थन

(ख) कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के माध्यम से खेलों को प्रोत्साहन

(ग) खेल तथा खिलाडियों के कल्याण उपायों की स्थापना

(घ) विकास के लिए खेल

इसकी शुरुआत 2009 से हुई, जिसमें कोई धनराशि नही दी जाती है।

# मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ट्रॉफी – इंटर-यूनिवर्सिटी ओवरऑल टॉप परफॉर्मिंग यूनिवर्सिटी। अंतर-विश्वविद्यालय टूर्नामेंट में संपूर्ण शीर्ष प्रदर्शन करने वाले विश्वविद्यालय को दिया जाता है । (शीर्ष के तीन विश्वविद्यालयों को नकद राशि दी जाती है) इसकी शुरुआत 1956-57 से हुई। इसमें 1. रू. 10 लाख, 2. रू. 5 लाख तथा 3. 3 लाख इनाम दिया जाता है।

– Ranjita Pathare 

READ SOURCE

Experience triple speed

Never miss the exciting moment of the game

DOWNLOAD